अचानक ही भारत के 40000 फौजी पाक सीमा पर तैनात. ये वजह आयी सामने

पाकिस्तान के करीब थार रेगिस्थान है. कई दिनोसे थार के इस रेगिस्थान में जबरदस्त बमबारी और गोलिया बरस रह है. इस इलाके में चारो तरफ तोफो की आवाजे सुने दे रही है. इस रेगिस्थान में भारत के तक़रीबन ४०००० से ज्यादा जवान यहाँ पुरे तैयारी के साथ तैनात हुए है.

 

भारतीय सेना दुश्मन देशो को सबक सिखाने हेतु जोरदार युद्धाभ्यास और शक्ति प्रदर्शन कर रही है. इन ४०००० सैनिको का काफिला यहाँ १ महीने से युद्धाभ्यास करनेमे जुटा है. सेना के ये जवान विभिन्न तरीको के माध्यम से अपनी ही क्षमता को परख रहे है.सेना के प्रमुख का ये कहना है की,  जवानों के इस “हमेशा विजयी युद्धाभ्यास” में सेना  के प्रारम्भिक प्रशिक्षण पूरा हो जाने के बाद. पूर्ण रूप से टैंक, बख्तार्बौंग , गाड़िया, और वायुसेना से पूरा तालमेल बिठाते हुए सैनिक इस युद्धाभ्यास को आगे बढ़ा रहे है. ये जवान पूरी सटीकता से इस युद्धाभ्यास को पूरा करनेमे जुटे है. अब कुछ दिनों के बाद ये जवान अपने अधिकारीयो के सामने इस युद्धाभ्यास का प्रदर्शन भी करेंगे. आपको बता दे की भारत के पास जो स्वयंचलित युद्ध के हतियार हे, उनका भी सर्वेक्षण इस युद्धाभ्यास में किया जायेगा.

इस रेगिस्थान में सेना सिर्फ पारम्परिक ही नहीं बल्कि रासायनिक, और परमाणु आकस्मिकता के लिए भी जोरदार तरीके से जवानों का युद्धाभ्यास कराया जा रहा है.  इस युद्धाभ्यास का ख़ास कर उद्देश ये है की, दुश्मन देश(पकिस्तान) के इलाके में ज्याकर सशत्र बलों की क्षमता का मूल्यांकन करना है.इसके साथ ही भारतीय सेना और वायु सेना के बिच एक विशिष्ट रूप से तालमेल किया जायेगा. दुश्मन देश के सरहद के पास उनके इलाके में जाकर ये जोरदार युद्धाभ्यास करना एक शक्ति प्रदर्शन ही है. जो दुश्मन देश को अप्रतक्ष्य रूप में दी गयी चेतावनी है. एसा मन जा रहा है की, पिचले कुछ दिनों पहले खासकर पाकिस्तान ने भारत को जो परमाणु हमले की धमकी दी थी. उसी धमकी को भारत की तरफ से दिया गया ये मुहतोड़ जवाब है.