Home देश इससे पहले एसा कभी नहीं हुआ 23 मार्च को राज्यसभा में bjp...

इससे पहले एसा कभी नहीं हुआ 23 मार्च को राज्यसभा में bjp के हो जायेंगे इतने सांसद

SHARE

लोक सभा के चुनाव में बीजेपी को मिली है बहुमत कित्नु कितने कष्ट उठाने पड़े मोदीजी को वोह तोह वे जि जानते है. विपक्ष और अन्य पार्टियां बीजेपी पर कई बार लांछन लगा चुकी है.

Related image

बीजेपी पर कीचड़ उछालने वाले बहोत है. अगर कोई घोटाला हो जायेगा तोह मोदीजी को ही निशाना बनाया जायेगा. बीजेपी ने कई परेशानियों का सामना किया है. इस बात को मोदीजी कई बार अपनी पार्टी के सदस्यों को बता चुके है. राज्य सभा में बीजेपी भले ही सबसे बड़ी पार्टी है कित्नु बहुमत से वांछित है. लेकिन अब हालत बदलने वाले है. २३ मार्च को बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा. राज्य सभा के ५८ सीटों के चुनाव जारी कर दिया है जिसके नतीजे २३ मार्च को आनेवाले है. इस बार बीजेपी को सबसे ज्यादा फायदा होगा. बीजेपी के पास इस बार ५८ सांसद है. उसके बाद कांग्रेस और १८ सीटों से सपकड़ी है. २३ मार्च के नतीजे आने के बाद बीजेपी को बहुमत मिल ही जाएगी और विपक्ष देखते रह जायेंगे.

Image result for राज्य सभा

२३ मार्च को राज्य सभा का नक्षा ही बदल जायेगा. इस बार अगर मोदीजी जीत जाते तोह देश के विकास के लिए उन्हें कोई नहीं रोक सकता. अंदाज़ा है की २५ सीटों से बीजेपी जीत सकता है. अप्रैल में बीजेपी के १७, कांग्रेस के १२, सपा के ६, बीएसपी और शिव सेना के १-१ , और अन्य दलों के २-३  कार्यकाल ख़तम हो रहा है. अब राज्यों में चुनाव के बारेमे कुछ जानकारी मिली है. यूपी में १० सीटों पे होंगे चुनाव जिसमे बीजेपी को ही ज्यादा सीटें मिलेंगी. यूपी में बीजेपी के पास ३१२ विधायक है. इसीलिए १० में ८ सीटें बीजेपी को ही मिलने की सम्भावना है. मोदीजी जो प्लान बनाया था वह कामयाब होता दिख रहा है. मोदीजी की कूटनीति का जवाब नहीं. मोदीजी राज्य सभा का तरीका ही बदल देंगे.

Related image

नरेंद मोदी जानते थे की अगर बहुमत चाहिए तोह राज्य सभा में जितना जरूरी है. उन्होंने पहेले कई राज्यों में अपनी सरकार बनायीं और अब वैह राज्य सभा के चुनाव के लिए लड़ रहे है. गुजरात और महारष्ट्र में बीजेपी को जित मिलेगी. बिहार में एन दी ए पार्टी को भी बढोती नहीं मिलेगी. इस तरह बीजेपी राज्य सभा में बहुमत पा ही लेगी. बीजेपी को कई परेशानियां हुई है राज्य सभा में लेकिन इस चुनाव के बाद विपक्ष से राहत मिलेगी. कोई महत्वपूर्ण बिल पास करवाने के लिए मोदीजी को अन्य दलों की सहायता की ज़रुरत नहीं पड़ेगी. राज्य सभा के लिए चुनाव कार्यक्रम तय किया जा चूका है. नामंकन की आखरी  तारिक १२ मार्च है. नामंकन पत्रों की जांच की तारिक १३ मार्च है और नामंकन वापस लेने की १५ मार्च. २३ मार्च को सुबह ९ बजे शाम ४ बजे मतदान किया जायेगा. ५ बजे से वोटों की गिनती शरू हो जाएगी.