Home देश इस देश ने दिया भारत को धोखा, सत्ता परिवर्तन होते ही China...

इस देश ने दिया भारत को धोखा, सत्ता परिवर्तन होते ही China के साथ मिला

SHARE

नेपाल में हाल ही में सत्तांतर हुआ है. इस बार यहाँ के पी ओली ने नेपाल के प्रधान मंत्री पद की सत्ता हाथ में ली है. इससे चीन खुश है.

नेपाल के पिछले प्रधान मंत्री भारत से नजदीकी बनाये हुए थे लेकिन अब नेपाल में सत्तांतर हुआ हाउ और के पी ओली यहाँ के प्रधान मंत्री बन गए है. के पी ओली शुरू से ही चीन के समर्थक रहे है. नेपाल चुनाव के फैसले से चीन काफी खुश नजर आ रहा है. नेपाल में वामपंथ सरकार बनने के पहले से ही ओली चीन का समर्थन करते आए है. ओली ने सत्ता में आने पर कहा की नेपाल चीन के साथ बेहतर सम्बन्ध बनाना चाहता है, वही वक़्त को ध्यान में रखते हुए भारत के साथ एक नए रिश्ते की शुरूवात करेंगे. ओली अपनी पार्टी सी पी एन यु एम एल से भारी बहुमत से यह चुनाव जीते है. भारत पर रणनीतिक दबाव बनाने के लिए चीन नेपाल का प्रयोग कर सकता है.

चुनाव अपनी जीत के बाद होन्ग कोंग के साउथ चाइना सी अखबार से अपनी मुलाकात में ओली ने कहा की वह समय को ध्यान में रख कर भारत के साथ नए तरीको से रिश्तो की शुरुवात करना चाहते है. चीन समर्थित २५ अरब रूपए के जलविद्युत प्रकल्प को फिर से शुरू कर दिया जायेगा. इस योजना को पिछले सरकार ने अनियमितता का कारन देते हुए बंद कर दिया था. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग श्वांग कहते है की भारत, नेपाल और चीन एक दुसरे के महत्वपूर्ण पडोसी मुल्क है. और एक दुसरे का सहयोग करने से तीनो देशो को बहुत फायदा होगा. चीन को अब ओली की सरकार बनाने से ख़ुशी है क्युकी चीन के रुके हुए प्रोजेक्ट अब दोबारा शुरू हो जायेंगे. ओली ने सरकार में आने से पहले ही कहा था की उन्हें चीन से बहुटी आशा है और वह भारत पर अपनी निर्भरता कम करेंगे.