Home देश इस वजह से इजराइल से डरकर भागते है मुस्लिम देश.

इस वजह से इजराइल से डरकर भागते है मुस्लिम देश.

SHARE

दुनिया के नए राष्ट्रों में से एक है इजराइल जिसकी आबादी 80 लाख है। यह देश की भौगोलिक स्थिति ऐसी है कि यह चारों तरफ़ से दुश्मन मुस्लिम देशों से घिरा हुआ है लेकिन इसका रूतबा ऐसा है कि इसके दुश्मन देश भी इससे डरते हैं।पड़ोसी देश किसी भी तरह इजराइल को खत्म करने की चाहत रखते हैं।यह एक काफी छोटा देश है।

यह एक मात्र देश है जो यहूदी धर्म को मानता है।भारत की तरह आजादी के लिए इसको पलेस्टाइन के साथ टेरन हिस्सो में होना पड़ा एक हिससा यहूदियों को इजराइल के रूप में मिला बाकी दो हिस्से अरबियों को पैलेस्टाइन के रूप में मिला ।हिटलर से जान बचा कर यहूदी लोग इजराइल पहुँचे थे और इजराइल बनाया था तब अरब के लोगों ने 1948 पर हमला किया था।उस समय इजराइल बना ही था उसके पास ना ही कोई बारूद गोला था और ना ही बड़ी सेना फिर भी उन्होंने अरब को 1948 में अपने साहस से हरा दिया था ।तब से अब तक अरब देशों ने 6 बार इजराइल से युद्ध किया है और इजराइल ने हर बार हराया है।1948 के युद्ध से लेकर अब तक के युद्ध में इजराइल के 25 हज़ार सैनिक शहीद हुए हैं और वहीं मुस्लिम देशों के 54 हज़ार सैनिक शहीद हुए। इजराइल कभी खुद पहले हमला नही करता पर उसका ऐसा कहना है कि अगर किसी ने उनके एक नागरिक को मारा तो वो उनके घर में घुस कर उनके 1000 को मारेंगे।एक तरफ ISIS ने पूरे अरब में आतंक मचाया हुआ है वहीं ISIS ने कभी इजराइल पर हमला नहीं किया उन्हें पता है कि अगर उन्होंने ऐसा किया तो वो अपनी मौत को दावत दी बैठेंगे।

चाहे भौगोलिक छेत्र में यह देश सबसे छोटा है पर इसकी सेना दुनिया में चौथे स्थान पर आती है।जब भी बात होती है देशभक्ति की तो इजराइल के नाम सबसे पहले आता है।घरेलू कंप्यूटर इस्तेमाल करने में यह पहले स्थान पर आता है।चलिये जानते हैं कुछ बाते जो इस देश को स्पेशल बनाती हैं सबसे पहले आता है स्वाभिमान – यह देश खुद से कभी शुरुआत नहीं करता परन्तु जवाब देने में भी फिर पीछे नही रहता। फिर आता है आर्मी – इजराइल के हर नागरिक को मिलिट्री की ट्रेनिंग दी जाती है। ट्रेनिंग लेना अनिवार्य है। ट्रेनिंग की अवधि लड़को के लिए 3 साल और लड़कियों के किये 2 साल है। फिर आता है डिफेंस बजट – यह देश अपने डिफेंस सिस्टम पर अच्छा निवेश करता है। यह एक इकलौता देश है जो एन्टी बैलेस्टिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस है।इजराइल की तरफ़ जाने वाली हर मिसाइल रास्ते में ही दम तोड़ देती है।दुनिया के 9 देशों में से इजराइल भी एक देश है जिसके पास अपनी सॅटॅलाइट है जिसकी मदद से ये अपना ड्रोन चलाता है।यह अपना सैटेलाइट सिस्टम किसी के साथ शेयर नही करता। इसके पास अपनी गुप्त ऐजेंसी मोसाद है,यह एजेंसी दुशमन के घर में घुस कर उसे मरती है जिसका उदाहरण भी है इजराइल सैनिकों ने 1974 में युगांडा में बन्दी बने अपने नागरिकों को छुड़ा ने के लिए इंटेबे ऑपेरशन को अंजाम दिया था।इजराइल से टक्कर लेना अपनी मौत को बुलाने जैसा है।यह देश जिनता छोटा है उतना ही साहसी, शक्तिशाली भी है।