Home विदेश कोरिया के सनकी तानाशाह किम-जोंग की ये 5 बातें जो आप नहीं...

कोरिया के सनकी तानाशाह किम-जोंग की ये 5 बातें जो आप नहीं जानते

SHARE

आज कल के खबरों में हमेशा किम जोंग -उन का नाम सामने आता है.उनके नाम की चर्चा हमेशा अख़बारों में होती. अभी उनका नाम कई सर्वोच्च  नेताओ में लिया  जाता है. उनके किये सारे कई रिपोर्ट हम जानते है और हमेशा उनके बारों में पढने को भी मिलता है.लेकिन उनकी निजी जिन्दगी के बारे मैं कम ही सुनने को मिलता है.

उनके ही कई सहपाठी और वहा से निकले हुए सुन्त्रो से उनके निजी जीवन के बारे में कुछ बाते सामने आई है.किम जोंग -उन के बारे में पहली बात सामने आई की  राजकुमार होते हुए भी अकेली जिन्दगी है.विशेषकों का कहना है की उनका जन्म राजकुमारों के बिच कुछ 19८२ से १९८३ में हुआ .एनके लीडरशिप वॉच के निदेशक के बताई बातों से उनका जीवन बड़े बड़े बंगलो और विलासतो में रहकर भी अकेला था .उनके पिता किम जोंग उल ने भी अमेरिकी न्यूज़ एबीसी से बात करते हुए भी कुछ ऐसा ही बताया था.२०१७ की टोरंटो में ली ने कहा है की वे भी बहुत तनाव में थे, उनके साथ खेलने के लिए कोई हमउम्र का नहीं था और जो व्यस्क होते थे जों उन्हें शिक्षा देते थे और उनके साथ खेलते थे .

वोह बचपन से ही सैन्य की पोशाख पहनते थे जो हमेशा उनकी पहचान रही है.मेडन कहते है की किम  के परिवार में कोई भी उनकी आज्ञा के बिना उनको मिल नहीं सकते थे क्योंकि बच्चो का अपहरण होने के कारन सुरक्षिता के वजह से आज्ञा जरुरी थी.किम जों  के बारे में दूसरी बात ऐसी की उनकी पढाई स्वित्ज़रलैंड में हुई .स्वित्ज्र्लंद के बर्फियों वादीयों में एक जर्मन स्कूल में उन्होंने पढाई की.१९९६ से २००० तक उनकी पढाई उरोपे में हुइ .पहले वोह अपने मौसी के साथ रहते थे लेकिन १९९८  मौसी अमेरिका चली गयी. द वॉशिंगटन पोस्ट के इन्टरव्यू में मोसी  कहती है की वोह समस्या पैदा करने वाला बच्चा नहीं था लेकिन वोह हमेशा चिडचिडा और कम सह्नशक्ति वाला लड़का था.उनके साथ पढाई करने वाले कई दोस्त उन्हें दूतावास में काम करनेवाला का बचा समझ लेते.लेकिन वोह एक अच्छे दोस्त थे.

किम जोंग उन के बारे में तीसरी बात ऐसी की उनको बास्केटबाल के बारे में बड़ी दिवानगी थी. मार्को इम्होफ्फ़ की जो किम जोंग उन के साथ बास्केट बोल खेलते थे,उनका कहना है की वोह शर्मीले तरह के लड़के थे लेकिन बास्केटबाल खेलते समय सकारात्मक तरह से वोह आक्रामक होते थे. किम जोंग हमेशा से अमेरिकी खिलाडी माइकल जॉर्डन के दीवाने रहे.आज उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता होने से भी उनकी बास्केटबाल के प्रति दीवानगी है.अमेरिकी खिलाडी डेनिस रोड्मेन ने कई बार उत्तर कोरिया की यात्रा कर चुके है लेकीन उन दोनों की दोस्ती विवादों के घेरों में घेरी गयी है.उनका कहना है की कैसे लोग उने पागल समजते है.बल्कि वोह उन्हें उस तरह से नहीं देखते.किम जोंग उन उत्तर कोरिया के प्रमुख नेता रहते हुए भी अपने बास्केटबाल को देखना कभी नहीं भूलते.आज भी उसके प्रति उनकी दीवानगी कायम है.

किम जोंग के बारे में चौथी बात है की उन्हें विस्की और एनीमेशन फिल्मे बहुत पसंद है.लीडरशिप वाच के वेबसाइट पर बताया गया है की किम जोंग उन १५ साल की उम्र से ही शराब पीना शुरू कर दिया था और वोह भी जोहनी वोस्कर विस्की के साथ.लेकिन उत्तर कोरियों के लिए ये स्वाभाविक बात थी.एनके लीडरशिप वेबसाइट के मुताबिक बताया गया की किम जोंग उन को जापानी एनीमेशन फिल्मे भी बहुत पसंद है.वोह हमेशा माइकल जैक्सन और मडोना के संगीत पसंद है.किम जोंग उन की ये पसंद उनके पिता और बड़े भाई के कारन आई है. उनके बड़े भाई किम जोंग चोल को २०१५ में लंदन के एक म्यूजिक कॉन्सर्ट में देखा गया था.छोटी उम्र से ही किम जोंग उन ने यन्त्र वाद्य बजाना सिख लिया  था और वोह गिटार बेहतरीन तरीके से बजाते थे .

आज की कुछ सुनी बातों से किम जोंग उन कुछ आक्रामक भी दीखते है.लेकिन किम जोंग उन के बारे में पांचवी बात सामने आई वोह उनका दयालुपन.किम जोंग उल की जो उनके पिता थे उनके शेफ एक जापानी  ने किम जोंग उन के उदारवादी स्वभाव  के बारे में बताया.यह शेफ किम जोंग उल के साथ एक दशक के लिए था लेकिन उसने २००१ में उत्तर कोरिया भाग कर छोड़ दिया.केंजी फुजिमोतो के उपनाम से बाते लिखनेवाला यह शख्स तीर्थ यात्रा में जापान से भाग गया था.कई बार वोह लग्जरी सामान खरीदने के लिए विदेशी यात्रा कर चूका था.परन्तु अब उत्तर कोरिया से भागने के बाद कही एजेंट उसका बदला न ले इस बात का डर था.किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया के सरकार का दूसरा रूप भी दिखाया.

यह जापानी शख्स किम जोंग उन के निमंत्रण पर २०१२ में  प्योंगयुंग पहुंचा और यहाँ किम जोंग उन का स्वाभाव देख अचंबित रह गया.केंजी  फुजोमोतो किम जोंग उन के पैर में रो रो कर माफ़ी मांगने लगे और फुट फुट कर रोने लगे जब उन्होंने किम जोंग उन को देखा.वाशिंगटन पोस्ट के इंटरव्यू में यह शख्स बताता है की उन्होंने किम जोंग उन से उत्तर कोरियाई भाषा में बात की .उन्होंने कहा “में फुजिमोतो , गद्दार वापस आ गया हूँ “लेकिन किम जोंग उन ने ठीक है कहा .और ठीक है कहते हुए गले भी लगा दिया .केंजी फुजोमोतो के कई कहानिया पर सवाल है लेकिन इस बात पर विशेषज्ञ भी सहमत है.केंजी फुजोमोतो की यह बात की किम जोंग उन अगले युवा शासक बनेंगे क्योंकि वे पिता के चहेते है.किम जोंग उन के बारे में यही पांच बाते आज उनके कई सारे नए स्वाभाव के बारे में हमे बताते है.