Home देश खुद सलमान खुर्सिद ने ही सोनिया गाँधी के खिलाफ कर दिया ये...

खुद सलमान खुर्सिद ने ही सोनिया गाँधी के खिलाफ कर दिया ये बड़ा कांड

SHARE

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में आयोजित एक कार्यक्रम में पूर्व विदेश मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस के हाथों में मुसलमानों के खून के दाग है. उनके इस बयान के बाद जमकर हंगामा मचा.दरहसल राहुल गाँधी जब से कांग्रेस पार्टी के अधक्ष्य बने है तब से कांग्रेस पार्टी में फुट पड़ रही है.लगता है जैसे कई नेताओं को राहुल गाँधी का अधक्ष्य बनना अच्छा नहीं लगा.

अभी कुछ दिन पहले ही कांग्रेस ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ एक महाभियोग प्रस्ताव पेश किया था.इस महाभियोग प्रस्ताव में बाकि विपक्ष दलों ने साथ दिया था.परंतु इस प्रस्ताव को लेकर पार्टी के नेता ही विरोध करते दिखाई दे रहे थे.कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंग ने विरोध किया और उस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया.दुसरे कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने भी इस प्रस्ताव को लेकर विरोध दर्शाया था.कई नेताओं के इस प्रस्ताव का विरोध देख कर कांग्रेस पर ही सवाल उठ रहे थे.तभी हाल ही में कांग्रेस के नेता सलमान खुर्शीद के बयान से पार्टी बड़ी मुश्किल में पड गयी है.गौरतलब है कि सलमान खुर्शीद ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के आंबेडकर हॉल में एक समारोह में एक छात्र द्वा एक सवाल पूछा गया.

वो सवाल कुछ ऐसा था की -१९४८ में AMU एक्ट में पहला संशोधन हुआ और उसके बाद १९५० में राष्ट्रपति के आदेश उसके बाद हसिनापुर,मलियाना और मुजफ्फरनगर और पूरी लम्बी लिस्ट है कांग्रेस सरकर में दंगों की बाबरी मुशिज्द के दरवाजों का खुलना और उसमें मूर्तियों का रखना ,कांग्रेस की केंद्र में जब सरकर थी तब बाबरी मुशिज्द की शहादत जो मुसलमानों के तमाम खून के धब्बे कांग्रेस के दामन पर है,उस दब्बेको आप किस तरह से देखते हो?इस सवाल का जवाब देते हुए सलमान खुर्शीद ने कहा की “यह राजनीतिक सवाल है. हमारे दामन पर खून के धब्बे हैं. कांग्रेस का मैं भी हिस्सा हूं तो मुझे मानने दीजिये कि हमारे दामन पर खून के धब्बे हैं.”खुर्शीद ने कहा कि क्या आप यह कहना चाहते हैं कि चूंकि हमारे दामन पर खून के धब्बे लगे हुए हैं, इसलिए हमें आपके ऊपर होने वाले वार को आगे बढ़कर नहीं रोकना चहिए?

उन्होंने प्रश्नकर्ता की तरफ इशारा करते हुए कहा, ‘हम ये धब्बे दिखाएंगे ताकि तुम समझो कि ये धब्बे हम पर लगे हैं, लेकिन यह धब्बे तुम पर ना लगें. तुम वार इन पर करोगे, धब्बे तुम पर लगेंगे. हमारे इतिहास से सीखो और समझो. अपना हश्र ऐसा मत करो कि तुम 10 साल बाद अलीगढ़ यूनीवर्सिटी आओ और आप जैसा कोई सवाल पूछने वाला भी ना मिले.खुर्शीद की एएमयू टिप्पणी ने कांग्रेस के मुख्य प्रतिद्वंद्वी, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से तेज प्रतिक्रियाएं शुरू कीं.भाजपा ने कहा कि खुर्शीद का बयान कांग्रेस के दंगे कराने और मुसलमानों को वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल करने के इतिहास को लेकर पार्टी का कबूलनामा है.भाजप का ये भी मानना है की कांग्रेस पार्टी को अभी प्रायचित करने का समय अभी आया है.अब इसे हिन्दू-मुसलमान भीड़ न करे यही उम्मीद करते है.