Home देश चाइना ने अब इस को भी धमकाया, कहा अमेरिका से ज्यादा सम्बन्ध...

चाइना ने अब इस को भी धमकाया, कहा अमेरिका से ज्यादा सम्बन्ध ना बनाये

SHARE

ताइवान और अमेरिका के बिच हुए कुछ समजौतो से चीन को मिर्ची लगी है. अमेरिका और तैवान के संबंधो को बढ़ने के लिए दोनों देशो में एक विधेयक को पारित किया गया है.

Image result for america and taiwan

अमेरिका और तैवान के बिच द्विपक्षीय संबंधो को बढ़ावा देने के लिए एक विधेयक पारित किया गया. इस विधेयक के पारित होते ही चीन ने इस पर अधिकारिक रूप से विरोध दर्ज किया और नाराजगी जाहिर की. अमेरिका और तैवान के बिच सभी स्तरों पर यात्रा को बढ़ावा देने के लिए अमरीका में ताइवान यात्रा कानून पारित किया गया है. विधेयक में कहा गया है की अमेरिका की यह नीति होनी की ताइवान के उच्चस्तरीय अधिकारी अमेरिका आये, अमेरिकी अधिकारियो से मिले, और देश में कारोबार करे. अमेरिका ने एक चीन के तहत बीजिंग में कम्मुनिस्ट शासको को मान्यता देते हुए १९७९ में ताइवान से औपचारिक और राजनैतिक संबंधो को ख़त्म कर दिया था. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है की यह नया विधेयक चीन चीन के सिद्धांत का उल्लंघन करता है.

Related image

विधेयक में कहा गया है की अमेरिका आने वाले, अमेरिकी अधिकारियो से मुलाकात करने वाले और देश में कारोबर से जुड़े विषय पर आने वाले उच्चस्तरीय ताईवानी अधिकारियो के लिए अमेरिकी नीति होनी चाहिए. इस विधेयक को कानून बनने के लिए अब सिर्फ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के हस्ताक्षर होना बाकि है. अमेरिका ने किये हुए इस विधेयक से जाहिर ही तैवान के साथ अमेरिका के सम्बन्ध गहरे हो जायेंगे. अमेरिका से जुड़ने का फायदा तैवान को होगा ही, लेकिन साथ ही अमेरिकी अर्थव्यवस्था को भी तैवान के साथ किये व्यापर का फायदा पहुंचेगा. चीन को यह बात बिलकुल ही खल रही है की तैवान अब अमेरिका के नजदीक आ जायेगा और वह आर्थिक और व्यापारिक तौर पर तरक्की करेगा. चीन ने इस बात की नाराजगी खुले रूप से अधिकारिक तौर पर जाहिर की है.