Home देश तीसरे विश्वयुद्ध में दुनिया के ये 10 देश है, सबसे सुरक्षित देश

तीसरे विश्वयुद्ध में दुनिया के ये 10 देश है, सबसे सुरक्षित देश

SHARE

दुनिया को सबसे बड़ा खतरा है तीसरे विश्वयुध्द का. पूरी दुनिया इस कल्पना से ही डरती है की यदि तीसरा विश्वयुध्द हुआ तो उसका नतीजा कितना खतरनाक होगा, विश्व हालत क्या होगी.

Related image

दुनिया में आज ग्लोबल वार्मिंग से भी बड़ा खतरा है विश्वयुध्द का. यदि तीसरा विश्वयुद्ध हुआ, तो दुनिया तहस महस हो जाएगी. आज दुनिया तकनिकी रूप से बहुत ही प्रगत हो गयी है. इस दुनिया के सभी देश अपनी अपनी ताकत बढाने में जुटे हुए है. कई देश परमाणु शक्ति का भी प्रयोग करने लग गए है. इस दुनिया में कुछ लोग ऐसे है जिन्हें शांति और चैन से जीना पसंद है लेकिन अधिकतर लोग ऐसे बन रहे है जो ना ही खुद शांति से जीते है और ना ही दुसरो को जीने देते है. ऐसे लोगो की वजह से आज हिंसा, अशांति बढ़ रही है. हमारे मनन में ऐसे कई सवाल उठते है की विश्वयुध्द होगा, या नहो होगा, यदि होगा तो कब होगा. इन सवालो के जवाब तो कोई नहीं जानता.

Related image

लेकिन अगर विश्वयुध्द होता है, तो आप कहा सुरक्षित हो सकते है ये सवाल तो सच में सोचने जैसा है. विश्व में कुछ ऐसे देश है जहा विश्वयुध्द का उतना खतरा या असर नहीं होगा जितना अन्य देशो पर. हम आपको ऐसे ही सुरक्षित देशो के बारे में बता रहे है. यदि आप इनमे से एक देश में रहते है तो आप सुरक्षित रहेंगे. सबसे पहले आता है स्विट्ज़रलैंड. यह देश यूरोप में स्थित है उसे यूरोप का दिल भी कहा जाता है. इस देश की आबादी बहुत कम है जीस वजह से यहाँ के सैन्य दल भी छोटे है किन्तु मजबूत है. स्विट्ज़रलैंड ऊँची ऊँची पहाडियों से घिरा हुआ है, इसी वजह से वह सुरक्षित है. यह पहाड़ हवाई हमलो से स्विट्ज़रलैंड की रक्षा करते है. इस देश के पडोसी जर्मनी, फ्रांस, इटली दुसरे विश्वयुध्द में बुरी तरह से प्रभावित हुए थे. लेकिन यह देश सलामत रहा इन पहाड़ीयो की वजह से.

Related image

 

क्या आपने कभी तुवालू का नाम सुना है? तुवालू प्रशांत महासागर में ऑस्ट्रेलिया के पास स्थित एक देश है. यहाँ की जनसंख्याकेवल १० हजार है. इस देश पर किसी भी महाशक्ति के हमला करने की कोई भी सम्भावना नहीं है. तुवालु एक पूरी तरह आत्मनिर्भर देश है. इसके पास बहुत ही कम साधन उपलब्ध है. यह अपना अनाज और बाकि खुद बनाता है. इसलिए यह विश्वयुद्ध में सुरक्षित होगा. लेकिन ग्लोबल वार्मिंग की वजह से समुन्दर का पानी लगातार बढ़ रहा है और यह इस देश के लिए एक गंभीर समस्या है. न्यूज़ीलैंड एक ऐसा देश है जिसके दुनिया में कोई भी दुश्मन नहीं है. यह एक ऐसा अनोखा देश है जो सुनसान और एकांत से साथ विकसित है.  इस देश में भी ऊँची पहाडियों के होने के कारण यह हवाई हमलो से सुरक्षित है.

Related image

२०१५ में न्यूज़ीलैंड वैश्विक शांति की सूचि में चौथे क्रमांक पर था. भूटान एक और ऐसा देश है जो सुरक्षित है. भूटान को सबसे ज्यादा खुबसूरत और खुशमिजाज देश कहा गया है. इस देश ने १९६१ तक अपनि सांस्कृतिक विरासत को अपनाये रखा था. यह देश १९७१ में संयुक्त राष्ट्र में शामिल हो गया. इसके आज भी अमेरिका के साथ कोई भी राजनैतिक सम्बन्ध नहीं है. यह देश हिमालय के पर्वतो से घिरा हुआ है जिसकी वजह से यह पूरी तरह सुरक्षित है. इस देश में हवाई हमलो की कोई भी सम्भावना नहीं है क्योंकि यहाँ पर हवाई हमला करने के लिए हिमालय से भी ऊपर जाने की आवश्यकता होगी जो लगभग नामुमकिन है. भारत और चीन के बिच बसने के बावजूद भी यह देश विश्वयुध्द से पुर्णतः सुरक्षित है.

Related image

दक्षिण अमेरिका का सबसे समृध्स देश चिली है. मानव विकास के मुद्दे को देखा जाये तो चिली लैटिन अमेरिका के बाकि देशो से ऊपर है. चिली में तजी हवा और स्वच्छ पानी हवा की बहुत उपलब्धि है. दुसरे विश्वयुध्द के बाद यदि अमेरिका में प्रदुषण भी हो जाए तो चिली सलामत होगा. चिली एक लम्बे समुद्र किनारे पर स्थित है. दूसरी तरफ लम्बी पर्वतमालाओ से घिरा है. जीस कारन यह भी सुरक्षित साबित होता है. यह देश एक लम्बे हाईवे की तरह है. ग्रीनलैंड और यूरोप के बिच समुद्र में देश आइसलैंड भी काफी सुरक्षित है. इस देश की सीमा किसी भी अन्य देश से नहीं लगती है. इस देश का दुनिया के किसी भी देश से कोई बैर नहीं है. इसकी कुल आबादी सिर्फ ३.५ लाख लोगो की है. यहाँ का वातावरण भी ठंडा है. वैश्विक शांति में २०१५ में यह देश  पहले क्रमांक पर था. इस देश का अपना कोई सैन्य नहीं है.

Related image

८०% जमीन पर बर्फ की चादर बिछाया हुआ देश है डेनमार्क. डेनमार्क दुनिया का सबसे बड़ा समुद्री टापू है. उत्तर अटलांटिक और आर्कटिक महासागर के बिच स्थित होने के कारन यह देश विश्वयुध्द से बहुत दूर रहेगा. यह देश यूरोपियन संघ का एक हिसा होने के कारण कई बार यूरोप इस पर दबाव डालने की कोशिश करता है. लेकिन यह देश फिर भी किसी राजकीय गटबंधन से अलिप्त है. यह एक छोटासा देश है जिसकी जनसँख्या सिर्फ ५० हजार है. इसके बाद आता है माल्टा. माल्टा एक ३१६ किलो मीटर लम्बा छोटासा देश है लेकिन इसकी आबादी घनी है. बहुत से देश इस देश को हासिल करना चाहते है. कई देशो ने इस पर हमले भी किये लेकिन कोई सफल नहीं हो पाया है. दुसरे विश्वयुध्द में भी बमबारी की गयी थी.

Related image

आयरलैंड एक और समुद्री टापू है. यहाँ हमेशा ही हरियाली देखि जाती है. आयरलैंड की भी किसी के साथ दुश्मनी नहीं है. यह देश राजनीती के बिना भी एक स्थिर और विकसित देश है. आयरलैंड के कानून के अनुसार, आयरिश सरकार और आयरिश विधायको की अनुमति के बाद ही वे किसी बाहरी युध्द में प्रवेश कर सकते है. आयरलैंड ने हमेशा ही राजनैतिक मामले में यूरोप से अपनी दुरी बनाये राखी है. प्रशांत महासागर में ३३२ द्वीपों से बना देश है फिजी. इसमें से केवल ११० द्वीपों पर ही लोग रहते है. इसकी कुल आबादी है ८.६ लाख. इस देश के पास युध्द के लिए कोई भी उपलब्ध साधन नहीं है. इसीलिए इस देश पर हमला होना केवल असम्भव है. इसलिए फिजी भी विश्वयुध्द के दौरान बिलकुल महफूज़ रहेगा.