Home विदेश पाक की नापाक हरकत देख, दुबई ने ले लिया ये बड़ा फैसला

पाक की नापाक हरकत देख, दुबई ने ले लिया ये बड़ा फैसला

SHARE

पुरे विश्व से पकिस्तान को उसकी हरकतों की वजह से दुत्कारा जा रहा है. पकिस्तान से दुनियाभर के देशों को सम्सयाए ज़ेलनी पड़ रही है. पकिस्तान में पल रहा आतंकवाद अब उसे पूरी दुनिया के खिलाफ खड़ा कर चुका है. अनगिनत बार चेतावनी मिलने के बाद भी वह अपने देश में चल रही गैरकानूनी और आतंकवादी हरकतों पर रोक लगाने के लिए कोई भी कदम नहीं उठा रहा. संयुक्त राष्ट्र, अमेरिका और भारत हमेशा ही पकिस्तान की ऐसी हरकतों की आलोचना करते आये है. कई बार अमेरिका और भारत ने संयुक्त रूप से पाकिस्तान के खलाफ कदम उठाये किन्तु पाक अब भी नहीं सुधर पाया है.

पूरी दुनिया नजर में आतंकवाद का समर्थक बना यह देश अब धीरे धीरे अपनी मुश्किलें और भी बढ़ा रहा है. हैरान करने वाली बात ये है की अब एक मुस्लिम देश ने ही पकिस्तान को अपने लिए खतरा घोषित किया है. दुबई के सिक्योरिटी हेड ने पाकिस्तानी नागरिकों को गल्फ कंट्री के लिए बड़ा खतरा बताया है. दुबई के लेफ्टिनेंट जनरल धाही खलफान ने पाकिस्तानी नागरिकों पर ड्रग्स स्मगलिंग का आरोप लगाया है. पकिस्तान की स्थिति पहले ही दुनियाभर में दयनीय बन चुकी है, और ऐसे में पकिस्तान के सबसे करीबी खाड़ी दशो ने भी पाक्स्तान के खिलाफ हो जाने से उसकी समस्या कई गुना बढ़ चुकी है. दुबई जनरल सुरक्षा प्रमुख ढाही खलफान ने ट्वीटर के माध्यम से दुबई में पाकिस्तानी नागरिकों की गैरकानुनी  गतिविधियों का पर्दाफाश किया है.

दुबई के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने एक के बाद एक ट्वीट कर भारतीय नागरिकों की तारीफ की हैं. वहीं, पाकिस्तान के नागरिकों की निंदा की है. ट्वीट में अधिकारी ने कहा है कि भारत में रहने वाले लोग अनुशासप्रिय होते हैं. जबकि उसके पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोग बड़े ही आपराधिक किस्म के होते है. पाकिस्तानियों को गल्फ देशों के लिए खतरा बताते हुए दुबई के सुरक्षा प्रमुख ने कहा कि अपने देश की सुरक्षा के लिए जरूरी है कि पाकिस्तानी मजदूरों की देश में भर्ती करने से रोका जाए. खालफान ने दुबई में रहने वाले पाकिस्तानियों पर काफी नाराजगी जताई है और उन्हें अपराधियों और ड्रग तस्करों तक की संज्ञा दे डाली है. अधिकारी यह बयान उस समय दिया जब पाकिस्तान के तीन नागरिकों को ड्रग्स की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया.

धाही खलफान ने अपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, ‘पाकिस्तान के लोग गल्फ समाज के लिए खतरा हैं क्योंकि वे हमारे देश में ड्रग्स लाते हैं, इससे खाड़ी देशों में नशा कारोबार बढ़ रहा है’ खलफान ने कहा कि ऐसे लोगों को रोकने के लिए सख्त प्रक्रियाएं लागू करनी होंगी. ढाही खलफान ने अपने इस ट्वीट के साथ ही एक तस्वीर भी ट्वीटर से प्रकाशित की है. इस तस्वीर में३ पाकिस्तानी ड्रग्स के साथ गिरफ्तार किए गए है. उन्होंने आगे कहा है कि, पाकिस्तानी मूल के लोगों में अपराधी और तस्कर बड़े पैमाने पर हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लोगों के साथ सुरक्षा जांच सख्त होनी चाहिए. इसके अलावा उन्होंने अपने इस ट्वीट में दुबई में रह रहे भारतीय नागरिकों की अनुशासन प्रियता की भी तारीफ़ की है.

दुबई पुलिस ने खाडी देशो में ड्रग्स की तस्करी करनेवाले एक सक्रीय पाकिस्तानी गंग को अपनी हिरासत में ले लिया है. पकिस्तान की इन्ही सक्रीय गैरकानूनी गतिविधियों को देखते हुए दुबई के सुरक्षा प्रमुख ने यह बयान जारी कर दिया है. ढाही खलफान ने संयुक्त अरब अमीरात की कंपनियों से कहा है की पकिस्तान के साथ अपने ऐतिहासिक संबंधों के बावजूद पाकिस्तानी नागरिकों को नोकरी नहीं देनि चाहिये. भारत के नागरिकों कितारिफ करते हुए उन्होंने कहा है की भारत के लोग अपने कार्य के प्रति लगनशील और इमानदार होते है. साथ ही अपराधिक मामलो में अभी तक भारतियों की संलिप्त नहीं पायी गयी है. खाड़ी देश के सुरक्षा प्रमुस्ख द्वारा की गयी इस टिपण्णी के बाद पकिस्तान की गैरकानूनी गतिविधियों में मौजूदगी एक बार फिर दुनिया के सामने आ गयी है.

दुबई के सुरक्षा प्रमुख की पाकिस्तानी नागरिकों के लिए ट्वीट में की गई टिप्पणी पर पाकिस्तानी मीडिया ने जमकर भड़ास निकाली है. जिसमें खलफान ढाही की टिप्पणी को लेकर एक पाकिस्तानी उर्दू अखबार ने भड़काऊ और विवादित टिप्पणी करने के चलते उनको पहचाने जाने की बात कही है.पाकिस्तान के दूसरे अखबारों और टीवी चैनलों पर ढाही को लेकर विरोध में खबरें चल रही हैं. ढाही खालफान की छवि सख्त पुलिस अफसर की है. खालफान को ट्विटर का सहारा लेकर पाकिस्तानियों पर इसलिए हमला करना पड़ा क्योंकि वहां की पुलिस लागातार पाकिस्तानियों द्वारा किए जा रहे अपराधों से परेशान हो चुकी है. कुछ समय पहले ही कुछ पाकिस्तानी नागरिकों को दुबई पुलिस द्वारा ड्रग्स की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. खालफान की पाकिस्तानी नागरिकों के प्रति नाराजगी ने ट्विटर पर काफी हलचल मचा दी है.

पाकिस्तानी नागिरकों ने इस ट्वीट के जवाब में खेद और गुस्सा व्यक्त किया है. कई लोगों ने तो खालफान ने अनुरोध किया है कि वो पाकिस्तान और पाकिस्तानियों को निशाना बना कर उन्हें शर्मिंदा न करें. पकिस्तान के एक यूजर ने लिखा है कि पाकिस्तान को शर्मिंदा न करें. पाकिस्तान इस्लाम के नाम पर बना राष्ट्र है और मुस्लिम वर्ल्ड में एकमात्र परमाणु क्षमता वाला राष्ट्र है. जबकि दूसरे ने लिखा है कि पाकिस्तानियों की बेइज्जती ना करें. पाकिस्तानी यूएई को अपना दूसरा घर समझते हैं. खालफान के ट्वीट से ये साफ हो गया कि पाकिस्तान और यूएई के बीच संबंधों में अविश्वास बढ़ रहा है. इसके साथ ये भी समझ में आ रहा है कि पाकिस्तान के पारंपरिक सहयोगी रहे गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल के साथ पाकिस्तान के समीकरण मेल नहीं खा रहे.