Home देश फेल हुए राहुल गाँधी, आखिरकार देश की ये सचाई आयी सबके सामने

फेल हुए राहुल गाँधी, आखिरकार देश की ये सचाई आयी सबके सामने

SHARE

आज के दिन देखा जाए तो इन चार सालो में पी एम मोदी जी के सरकार में भारत की अर्थव्यवस्था तेज गति से बढ़ रही है. अभी आयी खबरों के अनुसार न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रिपोर्ट ये कह रही है की भारत दुनिया की धनि देशो के लिस्ट में छठे स्थान पर है.

आपको बता दे की न्यू वर्ल्ड वेल्थ एक वैश्विक बाजार अनुसंधान समूह है, जो जोहान्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में स्थित है और यह रेटिंग, सर्वेक्षण, देश की रिपोर्ट और संपत्ति के आंकड़ों में विशेषज्ञ हैं. सूत्रों के अनुसार आपको ये बता दे की न्यू वर्ल्ड वेल्थ रिपोर्ट में सीसीडीडी, भारत को सबसे अमीर देशों की सूची में छठे स्थान पर रखा गया हैं. जिसमें २०१७ में ८,२३० अरब अमेरिकी डॉलर की कुल संपत्ति हैं. जानकारी के मुताबिक़ कुल संपत्ति, प्रत्येक देश या फिर शहर में रहने वाले सभी व्यक्तियों द्वारा आयोजित निजी संपत्ति को संदर्भित करती है. हाला की रिपोर्ट में दिए गए आकड़ों से सरकारी फंड बाहर किये गए है और ये भी जानकारी दे दे की इसमें उनकी सभी संपत्तियां जैसे की संपत्ति, नकदी, इक्विटी, व्यवसाय हित कम देनदारियां शामिल हैं.

पहले दस देशों में अमेरिका कुल संपत्ति ६४,५८४ अरब अमेरिकी डॉलर के साथ इस लिस्ट में शीर्ष स्थान पर है उसके बाद चीन $ २४,८०३ बिलियन के साथ दूसरे स्थान पर है. तीसरे स्थान पर जापान $ १९,५२२ बिलियन के साथ है इसके बाद यूनाइटेड किंगडम ९,९१९ अरब के साथ चौथे स्थान पर है. जर्मनी की संपत्ति ९,६६० बिलियन है और इसके साथ ही जर्मनी को पांचवा स्थान मिला है. फ्रांस $ ६,६४९ बिलियन के साथ सातवे स्थान पर है. कनाडा $ ६,३९३ बिलियन के साथ आठवे स्थान पर है ऐसे में ऑस्ट्रेलिया $ ६,१४२ बिलियन के साथ नववि स्थान पर है और दसवे स्थान पर इटली $ ४,२७६ बिलियन के साथ है. आपको ये जानकारी दे दे की इस बीच, विचाराधीन अवधि के दौरान वैश्विक संपत्ति १२% बढ़ी है.

खबरों की माने आपको बता दे की पिछले दशक २००७ से लेकर २०१७ में भारत की कुल संपत्ति २००७ में ३,१६५ अरब अमेरिकी डॉलर से बढ़कर २०१७ में ८,२३० अरब डॉलर हो गई, १६०% की उछाल हुई है. भारत का २०१७ में वैश्विक स्तर पर बेहतर प्रदर्शन रहा है. खबरों की मुताबिक़ २०१६ में भारत की संपत्ति ६,५८४ अरब अमेरिकी डॉलर से बढ़कर २०१७ में ८,२३० अरब अमेरिकी डॉलर हो गई है. ऐसे में साल २०१६ में भारत की 25% की वृद्धि दर्ज हुई थी. भारत से ज्यादा अरबपति अमेरिका और चीन में होने की जानकारी है वैसे देखा जाए तो भारत में ११९ अरबपति है. अरबतियों के मामले में भारत अमेरिका और चीन के बाद तीसरे नंबर पर आता है और करोड़पतियों के संख्या से भारत सातवे नंबर पे आता है.