Home देश मुस्लिमो की ये नयी चाल आई सामने, हिन्दुओ ने भी दिया अपने...

मुस्लिमो की ये नयी चाल आई सामने, हिन्दुओ ने भी दिया अपने दम में जवाब

SHARE

दरअसल, कुछ तथाकथित हिन्दुवादी संगठन पिछले दो सप्ताह से गुड़गांव में नमाज में बाधा डाल रहे हैं. उन लोगों का आरोप है कि कुछ लोग जमीन पर कब्जा करके उसे मस्जिद में मिलाना चाहते हैं.उन्‍होंने कहा कि ‘नमाज मस्जिद या ईदगाह में अदा की जानी चाहिए, न की सार्वजनिक स्थल पर.

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने को लेकर उपजे विवाद के बाद हरियाणा सरकार ने बड़ा बयान दिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विदेश जाने से पहले दो टूक कह दिया कि निर्धारित स्थानों पर ही नमाज पढ़ी जानी चाहिए. सार्वजनिक स्थान इस कार्य के लिए निर्धारित नहीं होते.चंडीगढ़ में रविवार को पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद और ईदगाह होते हैं.इसके अलावा अपने निजी स्थान अथवा घर पर नमाज पढ़ी जा सकती है, लेकिन सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़कर प्रदर्शन करना उचित नहीं है. यदि नमाज पढ़ने के लिए निर्धारित स्थान कम पड़ते हैं तो संबंधित संस्थाओं के माध्यम से इनका निर्माण कराया जा सकता है.मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की कानून व्यवस्था पर पूरी तरह से निगाह है और स्थिति को किसी सूरत में नहीं बिगड़ने दिया जाएगा.

कुछ तथाकथित हिन्दुवादी संगठन पिछले दो सप्ताह से गुड़गांव में नमाज में बाधा डाल रहे हैं.जिसके बाद विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, हिन्दू क्रांति दल, गऊ रक्षक दल और शिवसेना के सदस्य भी पहुंच गए. इन संगठनों के कार्यकर्ताओं ने नमाज में बाधा डालने के लक्ष्य से कथिदरअसल, यह विवाद दो हफ्ते पहले तब पैदा हुआ था जब कुछ स्थानीय लोगों ने यहां नमाज का विरोध किया था और आरोप लगाया था कि कुछ लोगों ने नमाज पढ़ने के दौरान यहां ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ और ‘हिंदुस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाए.पिछले हफ्ते गुरुवार को सेक्टर ५३ के मैदान में नमाज में व्यवधान उत्पन्न करने और धमकाने के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया था.त रूप से ‘जय श्री राम’ और ‘राधे-राधे’ के नरे लगाए.शिकायतकर्ता वाजिद खान और नेहरू वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष हाजिद शहजाद खान की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को आहत करने समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज किया गया था.