Home देश सोनिया के खिलाफ खुद मनमोहन आये एक्शन में दिया ये बड़ा बयान

सोनिया के खिलाफ खुद मनमोहन आये एक्शन में दिया ये बड़ा बयान

SHARE

राहुल गाँधी के अधक्ष्य बनाने के बाद पार्टी में सभी तरह अफरातफरी चल रही है.कई नेता बगावती पर आ उतारे है.कुछ नेता पक्ष छोड़ने पर उतरे है तो कोई पार्टी के बारे में ही पोल खोल रहे है.कईओं को राहुल गाँधी का अधक्ष्य बनाना ही पसंद नही है ऐसा दिखाई दे रहा है.इस प्रकार कांग्रेस पार्टी अब अपने सर्वनाश का इंतजार कर रही है.

अभी कुछ समय पहले कांग्रेस पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को अयोग्य कह कर उनकी काबिलियत पर सवाल उठाये थे.उन्होंने दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव पेश किया था.उसके लिए कांग्रेस पार्टी के नेताओं के हस्ताक्षर की जरुरत थी परंतु मनमोहन सिंग ने अपने हस्ताक्षर देने से मना कर दिया.लेकिन एक सवाल ऐसा भी सामने आ सकता है की क्या पार्टी ने ही किया मनमोहन को साइड ?जैसे की हुम्जनाते है मनमोहन सिंग एक कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता है और जब सब नेताओं की CJI दीपक मिश्रा को पद से हटाने के लिए जब महाभियोग प्रस्ताव पर हस्ताक्षर के समय सभी राज़ी हुए सिर्फ मनमोहन सिंग ने विरोध किया.आप सबको पता है की मनमोहन सिंग अभी भी राज्य सभा के सदस्य है और इस महाभियोग पर सभी राज्य सभा सदस्य के हस्ताक्षर थे.लेकिन मनमोहन सिंग ने अपने निर्णय पर ठाम थे उन्होंने हस्ताक्षर नहीं किए.ये मन जा जा रहा है की कांग्रेस पार्टी के इस निर्णय से मनमोहन सिंग सहमत नहीं थे.

इस मामले पर सफाई देते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा की पार्टी ने जानबूजकर मनमोहन सिंग को शामिल नहीं किया.क्यूंकि वे एक पूर्व प्रधानमंत्री रह चुके है और उनके साथ बाकि है उनको हम इस मामले में नही खीचना चाहते.यहाँ पर सिर्फ मनमोहन की बात नही है.और भी कई आवाजे है जो कांग्रेस पार्टी के खिलाफ उठ रही है.सलमान खुर्शीद भी इस महाभियोग से सहमत नहीं थे.उनका कहना है की कोर्ट से कभी सभी पद से सहमत नहीं हो सकते. और इसका ये मतलब नहीं है की हम सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ उतर जाये.सुप्रीम कोर्ट से जो भी फैसला आयेगा वो ही अंतिम मन जायेगा और उससे ऊपर कोई जा नहीं सकता.और आपको अगर कोई फैसला नहीं पसंद आया तो उसके खिलाफ जाना उचित नहीं है ऐसा मानना कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद का है.अब ये देखना मजेदार होगा की कांग्रेस पार्टी के अंधार इतने विरोधी है तो बाहर कितने होंगे.