Home देश PM मोदी ने पाकिस्तान के खिलाफ चली ये चाल, पाकिस्तान ने डरकर...

PM मोदी ने पाकिस्तान के खिलाफ चली ये चाल, पाकिस्तान ने डरकर किया ये बदलाव

SHARE

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर भारत के साथ बढ़ते तनाव के बीच अपने रक्षा बजट में करीब 20 फीसदी वृद्धि की है.पाक में आगामी आम चुनाव को देखते हुए मौजूदा पीएमएल-एन सरकार के पास सिर्फ तीन माह बचे हैं लेकिन वित्तमंत्री इस्माइल ने विपक्ष के विरोध को नकारते हुए अपना रक्षा बजट बढ़ाने का फैसला किया है.

माना जा रहा है कि अमेरिकी मदद रुकने के बाद पाक सरकार में भारत की बढ़ती ताकत को लेकर काफी बौखलाहट है.इसी से घबराकर उसने मौजूदा कार्यकाल में सबसे बड़ी वृद्धि की है.पाक सेना और सरकर के बिच मतभेधों और चुनोतियोंके बिच रक्षा बजेट में फण्ड बढ़ाना काफी महत्वपूर्ण कदम मन जा रहा है.आतंकवाद जंग के अलावा पाकिस्तान का रक्षा खर्च हमेशा भारत पर ही केन्द्रित रहा है.इसलिए बजट की मार के चलते पाकिस्तान की सेना भारत से लगती नियंत्रण रेखा पर लगातार गोलाबारी के कारण कमजोर पड़ रही थी.पाकिस्तान के इस फैसले का साफ मतलब है कि वो हर मुकाबले में इस बार पाकिस्तानी सेना पर ज्यादा खर्च करेगी.हालांकि आतंकवाद की पनाहगाह होने के कारण इस साल जनवरी में पाक को मिलने वाली दो अरब डॉलर की अमेरिकी मदद रुकने से सरकार और सेना के बीच भी भारत की बढ़ती ताकत को लेकर मतभेद उभरने लगे थे.

आप को बता दे की इसी साल के सुरुवात में भारत ने अपना रक्षा बजेट में करीब ८ फीसदी की वृद्धी की थी.लेकिन देखा जाये तो भारत का कुल रक्षा बजेट पाकिस्तान के तुलना में ६ गुना जादा है.पाक सेना और सरकर में तनाव के बावजूद तीनो शशस्त्र बलों के लिए १ दशमलव १ करोड़ रूपए का प्रस्ताव किया है.कुछ जानकारों के मुताबिक पाक सरकार द्वारा संसद में रखे बजट की खास बात यह है कि देश में पहली बार रक्षा बजट ने १ खरब के आंकड़े को पार किया है.पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना के हिसाब से २०१८-१९ के लिए रक्षा बजट में १८० अरब रुपये की वृद्धि (१९.६फीसदी) की गई है.यदि इसमें आर्म्ड फोर्सेस डेवलपमेंट प्रोग्राम को आवंटित १०० अरब रुपए भी रक्षा बजट में शामिल कर लें तो यह बढ़ोतरी कुल ३० फीसदी हो जाएगी, जो पाक में पहली बार हुई है.