Home देश PM मोदी ने फिर एक बार इजराइल से मिलकर लिया ये हाहाकारी...

PM मोदी ने फिर एक बार इजराइल से मिलकर लिया ये हाहाकारी फैसला

SHARE

भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा ही देश की सेनाओ को मजबूत बनाने की कोशिश में रहते है. उन्होंने अपने कार्यकाल में देश की वायु सेना और नौसेना के प्रति काफी बड़े कदम उठाये है. साथ ही भारत पकिस्तान की कश्मीर सीमा पर तैनात भारतीय जवानों के लिए भी कुछ महत्वपूर्ण फैसले किये. इन तीनो सेनाओं को जरूरते और समस्याओं को ध्यान में लेते हुए उन्होंने उपयुक्त सामान की आपूर्ति भी की. भारत को पकिस्तान की तरफ से हमेशा ही खतरा रहा है. पकिस्तान ने कई बार पहले भी भारत पर बड़े हमले किये और चीन भी अब उसका साथ दे रहा है.

अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधान मंत्री पद के कार्यकाल में भी पकिस्तान ने कारगिल पर हमला किया था. लेकिन भारतीय सेना ने इसका मुह तोड़ जवाब देते हुए युध्द जीत लिए था. पकिस्तान से हमलो से देश को सुरक्षित करने की तैयारियों में भारत जुटा हुआ है. इन्ही कोशिशो में भारतीय वायुसेना आनेवाले कुछ हफ्तों में इजराइल स्पाइडर एयर मिसाइल डिफेन्स सिस्टम को तैनात करने जा रही है. यह सिस्टम भारतीय वायुसेना के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि इस सिस्टम के साथ पकिस्तान से आनेवाले किसी भी हवाई हमले को ट्रैक करना मुमकिन हो जायेगा. साथ ही इस सिस्टम से उसे तबाह भी किया जा सकेगा. रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है की इस सिस्टम को देश की पश्चिमी सीमा पर तैनात करने की तयारी शुरू की जा चुकी है.

स्पाइडर याने सरफेस तो एयर पाइथन और डर्बी एक लो level क्विक रिएक्शन मिसाइल है. यह सिस्टम दुश्मन की और से आने वाले किसी भी लड़ाकू विमान, जासूसी विमान, मिसाइल या ड्रोन का पता लगा सकती है. साथ ही उन्हें नष्ट करने में भी सक्षम है. स्पाइडर जमीन से आसमान में मार करने में सक्षम है. यह १५ किलो मीटर के अन्दर और २० मीटर से ९००० मीटर की ऊँचाई के बिच दुश्मन के निशाने को कुछ ही समय में तबाह कर सकेगा. भारतीय वायुसेना इस सिस्टम में भारतीय आकाश मिसाइल का प्रयोग करेगी. आकाश जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल है. और उसकी रेंज ३५ किलोमीटर की है. डर्बी में मौजूद राडार की मदत से आकाश में निशाने की location का पता लगाया जा सकता है. इस सिस्टम की खरीद साल २००८ में हुई थी लेकिन कांग्रेस के धीमे कारोबार की वजह से यह काम जल्दी पूरा न हो सका.