Home देश अटल जी का सभी को चौकानेवाला अंदाज

अटल जी का सभी को चौकानेवाला अंदाज

SHARE

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री बातों के धनि थे.उनके हाजिरजवाबी में उनका हाथ कोई नहीं पकड़ सकता था. इसी बात से प्रभावित होकर विपक्षी दल के लोग भी उनकी तारीफ़ करने में चूकते नहीं थे.अटल बिहारी वाजपेयी का किसी भी नेता को जवाब देने का जो तरिका था, वो सामनेवाले को हसने में मजबूर करता था.

वाजपेयी के उस वक्त में इंदिरा गाँधी को पलटवार में जवाब देने में कोई भी हिम्मत नहीं रखता था.किसी भी नेता के लिए इंदिरा के खिलाफ बोलना आसान नहीं था.कोई भी इंदिरा का कुछ कहने से पहले दस बार सोचता था.क्योंकि आयरन लेडी को कही बुरा ना लगे.लेकिन अटल बिहारी वाजपेयी ने एक बार जवाब दे दिया था.एक बार इंदिरा गाँधी गंभीर चर्चा में कह देती है की आप हिटलर की तरह भाषण दे रहे है.इंदिरा गाँधी ने कहा की किसी भी बात को बताते समय आप हाथ हिलाकर बताते  है.

अटल जी सुनने के बाद कुछ देर के लिए छिटक गए.लेकिन उन्होंने जवाब दिया की इंदिराजी आपने हाथ हिलाते हुए भाषण देखे होंगे,लेकिन पैरे हिलाते हुए किसी को भाषण देते हुए देखा है.इस जवाब से बाकी के सारे नेता सख्त हो गए क्योंकि इंदिरा गांधी को जवाब देना एक साहस की बात थी.इंदिरा गांधी जवाब सुनकर सिर्फ मुस्कुराई।

अटल बिहारी जी की जवाब देने की कला पहले से उनमे थी.चाहे पार्टी का कार्यकर्ता या नेता हो,या विपक्षी दल का नेता हो,हर किसी को उसी अंदाज से अपना जवाब देते थे.साल १९९२ में लालकृष्ण अडवाणी रथयात्रा पर थे औरअटल बिहारी वाजपेयी जी उनके समर्थन के लिए लखनऊ में थे.अपने समर्थकों के साथ आडवाणी को समर्थन देने के लिए वे लखनऊ के हवाई अड्डे पर पहुंचे।उस वक्त यूपी में मुलायमसिंह यादव की सरकार हुआ करती थी.

लेकिन उस वक्त जिल्हाधिकारी को आदेश दिया की अटल जी को गिरफ्तार किया जाए.जैसी ही अटल जी एयरपोर्ट पर पहुँचते है वैसे जिल्हाधिकारी भी वहा होते है.तब तुरंत अटल जी उनसे पूछते है की भाई कहा लेकर जाओगे।उनकी बातों को सुनकर वहा खड़े सारे लोग हसने लगे.ये अटल बिहारी जी का ख़ास अंदाज था, जो सबको हसने पर मजबूर करता था.

वीडियो:’अल्लाह मोदी को सलामत रखे’ जम्मू-कश्मीर असेंबली जब मोदी-मोदी से गूंजी

अल्लाह मोदी को सलामत रखे

'अल्लाह मोदी को सलामत रखे' जम्मू-कश्मीर असेंबली जब मोदी-मोदी से गूंजी

Posted by NAMO TV on Saturday, August 4, 2018