Home देश अटल बिहारी जी के जिंदगी से जुडी रोचक बातें

अटल बिहारी जी के जिंदगी से जुडी रोचक बातें

SHARE

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का नाम चुनिंदा राजनेताओं में सबसे श्रेष्ठ स्थान पर आता है. क्योंकि इसका कारण है की उनके मुरीद विपक्षी दलवाले भी थे.राजनीति के साथ इन्सान के तौर पर उनका जो स्वभाव था,उसीसे उनकी महानता का पता चलता है.उनका जीवन हर भारत के नागरिक के लिए प्रेरणा की मिसाल है.

अटल बिहारी वाजपेयी के पास राजनीति के अलावा भाषण शैली और अपनी व्यंगता से सभी को हसने पर मजबूर कर देते थे.राजनीति के संन्यास के बाद में भी अटल बिहारी जी मीडिया और सोशल मीडिया पर हमेशा चर्चा में रहते थे.इसी में उनका एक किस्सा स्वभाव का एक पैलु दिखाता है.एक बार स्कूल के छात्रों को सम्बोधित करने के लिए गए थे.

वहा पर वे स्कूल के लिए एक हजार रुपये दान करते है और बताते है की मेरे पास इतने ही पैसे है क्योंकि उनकी नौकरी छूट गयी है.उनका मतलब चुनाव हार गए है. अपने सम्बोधन में कहते है की चुनाव में हार जीत होती रहती है  कभी हार से परेशान हुआ.बच्चों को बड़ी व्यंगात्मक तरीके से बताते है की मैं कभी चुनाव हारने से रोया नहीं की हाय मैं चुनाव हार गया.

बच्चों से अटल बिहारी कहते है की आप लोगों ने मुझे मामा माना है,आपका इस मामा का हाल ही में रोजगार छीन लिया है.इसलिए में आपके स्कूल एक हजार से ज्यादा मदद नहीं कर सकता।आप भी देख सकते है की किस ईमानदारी पूर्व प्रधानमंत्री अपनी मजबूरी को बच्चों के सामने पेश करते है.अटल जी के व्यक्तित्व से प्रभावित होकर खुद जवाहरलाल नेहरू ने कहा अटल बिहारी वाजपेयी एक दिन प्रधानमंत्री जरूर बनेंगे।

२६ पार्टियों को चलाने वाले वो देश के पहले पीएम थे और उन्होंने तीन बार इस पद के लिए शपथ ली थी.अटल जी की बहन ने कई बार उनकी पैंट बाहर फेकि थी क्योंकि उनके पिता सरकारी कर्मचारी थे और उनकी बहन नहीं चाहती थी की वे आरआरएस में जाए.अटल जी ऐसे एकमात्र नेता है जो ,जो चार राज्य यूपी,एमपी,गुजरात और दिल्ली से चुनकर संसद में पहुंचे।

वीडियो:पप्पूजी को खुद नहीं पता यह क्या बोल रहे है

हँसना मना है!

पप्पूजी को खुद नहीं पता यह क्या बोल रहे है

Posted by NAMO TV on Saturday, August 4, 2018