Home देश अमर सिंन्घ ने अखिलेश यादव पर बोला ये तीखा हमला,समाजवादी पार्टी भी...

अमर सिंन्घ ने अखिलेश यादव पर बोला ये तीखा हमला,समाजवादी पार्टी भी चौंक गयी

SHARE

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पिछले दिनों बंगला खाली कर राज्य संपत्ति विभाग को चाबी सौंप दी. लेकिन बता दे की सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पूर्व मुख्यमंत्रियों से सरकारी आवास खाली कराने को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला थम नहीं रहा है.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा सरकारी बंगले को खाली करने के बाद भी बंगला विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. ऐसे में राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा बंगला छोड़ने पर उसमें तोड़फोड़ कराने को लेकर जोरदार हमला बोला है ये बात सामने आई है. बता दे की अखिलेश के इस बंगले को जब मीडिया के लिए खोला गया तो उसकी तस्वीरें देखकर सभी हैरान रह गए. आलीशान महल की तरह दिखने वाला यह बंगला अंदर से तहस-नहस मिला. एसी, स्विच बोर्ड, बल्ब और वायरिंग तक उखाड़ ली गई थी. जानकारी के मुताबिक़ इस पूरे मामले को लेकर अब ‘अंकल’ अमर सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक विडियो संदेश जारी करके भतीजे अखिलेश यादव पर बेहद तीखा हमला बोला है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ अमर सिंह ने वीडियो जारी कर कहा कि मैंने अपने बंगले का स्वरूप बदल दिया है. बंगले का कायाकल्प गिरीश सांघीजी ने भी किया और मैंने भी किया. बीच में अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव के कारण मैं सांसद नहीं रहा लेकिन मैंने अपने बंगले की टाइल्स नहीं उखाड़ी. अमर सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव को जवाब देना चाहिए कि उनके बंगले में लगे सौ-सौ एसी, इटालियन टाइल्स और स्विमिंग पूल उनके खर्च पर बना था या फिर राजस्व विभाग के खर्च पर. उन्होंने अपने धन से बंगला बनवाया तो वो बताएं कि इतना पैसा उन्होंने कैसे कमाया. इसका उन्होंने टैक्स दिया कि नहीं. बता दे की अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्री रहते हुए ४, विक्रमादित्य मार्ग पर यह बंगला बनवाया था. इसे सजाने के लिए राज्य सम्पत्ति विभाग ने दो किस्तों में ४२ करोड़ रुपये जारी किए थे.

राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने कहा, ‘आप समाजवादी है या पूंजीवादी या अवसरवादी या घटिया तरीके से धन का उपार्जन गायत्री प्रसाद प्रजापति अवैध खनन करने वाले कथित बलात्कारी के सहयोग से कालेधन को लेकर अपने जीवन की शैली को उच्च करने वाले व्यक्ति है. हमने बंगला बनाया था तो हम उद्योगपति है. हम आयकर देते है, हमारे पास उसका हिसाब है.’ अमर सिंह ने विडियो में अखिलेश यादव से ये कहा, ‘आप हिसाब दीजिए जनता को कि सौ एसी कैसे थी, स्वीमिंग पूल कैसे था. अगर यह सब आपके पैसे से था तो यह पैसा आपने कैसे कमाया. खेती से कमाया या इटावा के कोल्ड स्टोरेज से कमाया था. इस पैसे का फ्लो क्या. अगर सरकार का था तो सरकारी धन का दुरुपयोग करने का आपको क्या अधिकार है.’

आगे उन्होंने कहा की, ‘इस तरह के घटिया और बेहूदा व्यक्ति को, जिसका मन इतना छोटा है, ऐसे लोगों के लिए ही अटल बिहारी वाजपेयीजी ने कहा है कि छोटे मन से कोई राजनीति नहीं होती और कोई बड़ा काम नहीं होता है. आपको अपना पिता पसंद नहीं, अपना परिवार पसंद नहीं है और अपना बंगला भी तब पसंद नहीं जब सुप्रीम कोर्ट उसे आपसे छीन ले, तो यह बाल हठ कब छोड़ेंगे आप.’ बता दे की मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद वह इसमें रहने लगे थे. अखिलेश ने दो जून को ही बंगला खाली कर दिया था लेकिन कुछ सामान रखा होने की बात कहकर तब चाबी राज्य सम्पत्ति विभाग को नहीं सौंपी थी. शुक्रवार रात अखिलेश और मुलायम के बंगलों की चाबी राज्य सम्पत्ति विभाग को दे दी गई थी. बता दे कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने यूपी के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया था.