Home देश इमरान के प्रधानमंत्री बनने से संबंध सुधरेंगे

इमरान के प्रधानमंत्री बनने से संबंध सुधरेंगे

SHARE

हाल ही में पाकिस्तान चुनाव में क्रिकेटर इमरान खान बड़ी जीत हासिल कर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बन गए है. हाला की अभी उनका शपथ ग्रहण समारोह होना बाकी है. बता दे की क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू ने आज उम्मीद जताई कि इमरान खान के पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने से भारत-पाक संबंधों में सुधार आएगा.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ बता दे की पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने केंद्र सरकार से इजाजत मिलने की ओर संकेत करते हुए कहा की, “अगर मुझे अनुमति मिली, तो मैं निश्चित तौर पर जाउंगा. यह बहुत बड़ा सम्मान है.” उन्होंने कहा कि वह इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होने को इच्छुक है.

खबरों के अनुसार सिद्धू ने कहा, “मेरी निजी राय है कि खिलाड़ी बाधाओं को तोड़ते है. वे लोगों को एकजुट करते है. मैं इमरान खान में एक महान खिलाड़ी देखता हूं और उन्हें ऐसे व्यक्ति के तौर पर देखता हूं जो मानवता के लिए हमेशा अच्छा करेंगे. मुझे बड़ी उम्मीदें है कि संबंधों में सुधार होगा.” आगे उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि यह एक नया युग हो सकता है.” सिद्धू ने पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर को एक यूनानी देवता और एक शुद्ध आत्मा भी बताया है.

बता दे की सिद्धू ने कहा कि खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद पाकिस्तान के ननकाना साहिब में अगले साल गुरू नानक देव की ५५० वीं जयंती के समारोहों को देखने का सपना हकीकत में तब्दील हो सकेगा. सिद्धू का नाम उन भारतीय हस्तियों में शामिल है जिन्हें खान के शपथ समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है. उनके अलावा आमिर खान और पूर्व क्रिकेटरों कपिल देव और सुनील गावस्कर को भी न्यौता भेजा गया है.

जानकारी के मुताबिक़ एक तरफ सिद्धू ने ऐसी बाते कही है तो वही दूसरी तरफ भाजपा सांसद सुब्रहमण्यम स्वामी ने न्यौता स्वीकार करने को लेकर उनकी आलोचना करते हुए कहा कि वहां यानी के शपथ ग्रहण समारोह में जाने का सिद्धू का फैसला जोखिम भरा है क्योंकि इमरान नीत सरकार आतंकवादियों के लिए एक मोर्चा होगी.