Home देश इस क्षेत्र में ट्रम्प को पीछे छोड़ PM मोदी की बादशाहत, तो...

इस क्षेत्र में ट्रम्प को पीछे छोड़ PM मोदी की बादशाहत, तो यहाँ तीसरे स्थान पर

SHARE

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश ही नहीं विदेश में भी बहुत लोकप्रिय हैं. यह उनकी लोकप्रियता का ही असर है कि राजनीति के मैदान के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी पीएम नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता के सामने कोई नहीं दिखता है. प्रधानमंत्री मोदी के साथ आज फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यू-ट्यूब और अन्य माध्यमों पर करोड़ों लोग जुड़े हुए हैं जो उनको अपना आदर्श मानते हैं.

twiplomacy.com पर छपे ताजा लेख के मुताबिक पीएम मोदी को फेसबुक पर लाइक्स करने वालों की संख्या सबसे अधिक ४३.३ मिलियन है. फेसबुक पर दूसरे स्थान पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हैं जिन्हें पीएम मोदी ने काफी पीछे छोड़ दिया है. फेसबुक पर ट्रंप को लाइक्स करने वालों की संख्या २३ मिलियन ही है.

ट्वीटर पर भी पीएम मोदी को फोलो करने वालों की संख्या बढ़ रही है. ट्वीटर पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और पोप फ्रांसिस के बाद भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर फॉलो किए जाने वाले दुनिया के तीसरे सबसे बड़े नेता हैं. मोदी को व्यक्तिगत तौर पर फॉलो करने वाले लोगों की संख्या जहां ४३.४ मिलियन है. ट्विटर पर ५३.४ मिलियन फॉलोअर्स के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति पहले स्थान पर हैं. दूसरे स्थान पर पोप फ्रांसिस हैं.

राष्ट्रपति बनने के बाद से डोनाल्ड ट्रम्प के फॉलोअर्स की संख्या दोगुनी हुई है. अंतरराष्ट्रीय संगठनों और सरकारों की डिजिटल नीति को प्रोत्साहित करने वाले डिजिटल प्लेटफार्म ‘टिप्लोमेसी’ की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले १२ महीनों में ट्रम्प ने अपने फॉलोअर्स के साथ २६.४५ करोड़ संवाद किए है. इस मामले में मोदी दूसरे और पोप फ्रांसिस तीसरे नंबर पर हैं. सबसे कम ट्वीट करने के मामले में सऊदी अरब के किंग सलमान पहले नंबर पर हैं. उन्होंने मई २०१७ से मई २०१८ के दौरान सिर्फ ११ ट्वीट किए.

हालांकि, उनके एक ट्वीट पर औसतन १ लाख ५४ हजार २९४ रिट्वीट हुए थे. वहीं, ट्रम्प के एक ट्वीट पर औसतन २० हजार ३१९ रिट्वीट हुए. ट्रम्प के मुकाबले मोदी अपने फॉलोअर्स से २० फीसद ही संवाद कर पाते हैं. पोप फ्रांसिस की अपेक्षा ट्रम्प अपने फॉलोअर्स से १२ गुना ज्यादा संवाद करते हैं. अध्ययन यह भी बताता है कि अमेरिकी विदेश विभाग वहां का इकलौता सरकारी विभाग है, जो राष्ट्रपति के ट्विटर अकाउंट को फॉलो नहीं करता. हालांकि, अमेरिकी विदेश विभाग ईरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ और ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी को फॉलो करता है.