Home देश इस वजह के कारन गणतंत्र दिन पर राहुल गाँधी को बिठाया छठी...

इस वजह के कारन गणतंत्र दिन पर राहुल गाँधी को बिठाया छठी लाइन में.

SHARE

२६ जनवरी को राहुल  गाँधी छटे स्थान पर सिट मिलने के कारन बी जे पी और कांग्रेस में नया संघर्ष छीड गया. गणतंत्र के   कार्यक्रम में राहुल और मोदी आकर्षण का केंद्रबिंदु गए. कार्यक्रम में राहुल गाँधी को इतना महत्व नहीं दिया गया. कार्यक्रम के समाप्ती पर कांग्रेस ने  केंद्र सरकार की आलोचना की.

इसपर बीजेपी करार जवाब दिया. शनिवार को  बीजेपी ने कहा की, राहुल गाँधी  खुदको एक विशिष्ट व्यक्ति मानते है. इसीलिए उन्हें हर जगह आगे रखना अती आवश्यक है. दोनों पारटीयों को एक और वजह मिली बहस करने के लिए और  जनता का लक्ष केन्द्रित करने के लिए . बीजेपी पार्टी की आपत्ति को ख़ारिज कर दिया.  जब काँग्रेस सत्ता में थी, और कांग्रेस  ने जिस तरह का  व्यवहार बीजेपी के साथ किया था,  उसी  तरहा का व्यवहार बीजेपी कांग्रेस के साथ किया. बीजेपी ने आरोप लगाया की, जब कांग्रेस सत्ता में थी तब उन्होंने बीजेपी नेताओंके साथ ऐसाही व्यवहार किया था. पर जब २६ जनवरी को राहुल छटी लाइन में जगह दी गयी, तब पार्टी के कार्यकर्ताओने जमकर हंगामाँ किया. इस वारदाद की बीजेपी नेताओं ने निंदा की. बीजेपी ने कहा की  प्रोटोकाल के मुताबिक राहुल ६ नंबर सिट दिए जाने पे इतनी आपत्ति क्यों है.

बीजेपी ने कांग्रेस के आरोपों को ख़ारिज किया , इसी शोर शराबे पर  बीजेपी के राष्ट्रिय प्रवक्ता जी बी एल  नर्सिंगराव ने कहा,  की उन्हें हैरानी हो रही है. जी बी एल  नर्सिंगराव शनिवार को  कांग्रेस पार्टी आरोपों का निषेध करते हुए  कहा की , जो पार्टी १३३  साल सत्ता मे रही हो और शानदार प्रदर्षन दावा  करती हो, उस पार्टी को  ये एसे हंगामा करना शोभा नहीं  देता. उन्होंने ये भी कहा की जब कांग्रेस सत्ता मे थी,  बीजेपी राष्ट्रिय अध्यक्ष और राजनाथ सिंग जैसे नेताओं के साथ एसाही बर्ताव किया गया था. राहुल गाँधी को गंणतंत्र दिवस में छटी स्थान पर  सिट मिलने के कारन ये बवाल मचा.  आप  देख  सकते है की, किस तरह  दोनों पार्टिया राजनीतिक दावपेंच खेल रही है.