Home देश कांग्रेस और JDS ये नया विवाद आया सबकर सामने

कांग्रेस और JDS ये नया विवाद आया सबकर सामने

SHARE

कर्नाटक में हाला की कांग्रेस और जेडीएस ने अपनी सरकार बना लि है लेकिन ऐसा कहते है की जब दो बेमेल लोगों का मेल हो तो खेल ज्यादा दिन तक नहीं चल पाता. खबरों की अनुसार कुछ ऐसा ही कर्नाटक में बनी ताजा सरकार को लेकर सामने आ रहा है.

बता दे की कांग्रेस को इतना भी ध्यान नहीं रहा कि जनता ने उन्हें इस बार बहुमत नहीं दिया है लेकिन उसके बाद भी उसने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाई और मुख्यमंत्री जेडीएस प्रमुख एच डी देवगौड़ा के बेटे एच डी कुमारस्वामी को बनाया गया. कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को ७८ सीटों पर कामयाबी मिली थी तो वही जेडीएस को ३७ सीटों पर कामयाबी मिली थी. हाला कि कर्नाटक की इस सरकार को बने हुए अभी ज्यादा दिन नहीं हुए थे कि दोनों पार्टियों के बीच तनाव की ख़बरें आने लगी. बीबीसी की खबर के मुताबिक कांग्रेस और जेडीएस ने सरकार तो बना ली लेकिन इन दोनों में मंत्रालयों को लेकर तनाव की ख़बरें सामने आ रही है. दरअसल दोनों दल वित्त मंत्रालय को लेकर आमने-सामने आ गये है. दोनों दल चाहते हैं कि वित्त मंत्रालय उनकी पार्टी को मिले. इसी बात को लेकर दोनों दलों में खींचतान मची हुई है.

जानकारी के मुताबिक़ कुछ और भी मंत्रालय है जिसको लेकर दोनों दलों ने आपस में बातचीत की है. इन विभागों में जल मंत्रालय और लोक निर्माण विभाग शामिल है. हाला कि सबसे ज्यादा खींचातानी कर्नाटक राज्य के वित्तमंत्री पद को लेकर चल रहा है. देखना है कि कभी एक-दूसरे के विरोधी रहे जेडीएस और कांग्रेस इस गठबंधन को इस तनाव के साथ कितनी दूर तक ले जाते है. बता दे कि इस गठबंधन में कांग्रेस के पास जेडीएस से ज्यादा सीटें है लेकिन उसके बाद भी मुख्यमंत्री जेडीएस का है. ऐसा इसलिए भी है क्योंकि कांग्रेस किसी भी कीमत पर भाजपा की सरकार नहीं बनने देना चाहती थी. अब इसे आप चाहे सत्ता का नशा कहें या विरोध की राजनीति, लेकिन सच यही है कि देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस अब क्षेत्रीय दलों के सहारे ही सांस ले रही है.