Home देश कांग्रेस का चुनाव के लिए सामने आया ये नया कारनामा

कांग्रेस का चुनाव के लिए सामने आया ये नया कारनामा

SHARE

कांग्रेस की नवगठित कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने आगामी लोकसभा चुनाव में व्यापक गठबंधन पर फैसला करने के लिए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को अधिकृत करने के साथ स्पष्ट किया है कि चुनाव से पहले और बाद में राहुल गांधी ही ‘स्वाभाविक रूप’ से उसका चेहरा होंगे. गठबंधन की गाड़ी आगे बढ़ाने के लिए भी पार्टी ने राहुल को पूरा अधिकार देते हुए क्षेत्रीय पार्टियों को यह संदेश दे दिया है कि कांग्रेस अध्यक्ष ही विपक्षी गठबंधन की धूरी होंगे.

नवगठित एवं विस्तारित सीडब्ल्यूसी की करीब पांच घटों तक चली पहली बैठक के बाद कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कहा, ‘आज की बैठक में २०१९ के लोकसभा चुनाव और आगामी विधानसभा चुनावों के बारे में चर्चा हुई. इसमें चुनावों के लिए प्रचार समितियों के गठन, तैयारियों और चुनाव पूर्व एवं चुनाव बाद गठबंधन का फैसला करने के लिए राहुल गांधी को अधिकृत किया गया है.’’

यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी पार्टी या गठबंधन की तरफ से प्रधानमंत्री पद का चेहरा होंगे तो कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘कांग्रेस का निर्णय सटीक, सपाट और स्पष्ट है. राहुल गांधी हमारा चेहरा हैं. हम उनके नेतृत्व में जनता के बीच जाएंगे. जब हम सबसे बड़ा दल होंगे तो स्वाभाविक रूप से वही चेहरा होंगे. इसमें शक की कोई गुंजाइश नहीं है.’उन्होंने कहा, ‘हम २००४ से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करते हैं.

जब कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी होगी और इसके पास २०० या इससे अधिक सीटें होंगी तो स्वाभाविक है कि कांग्रेस गठबंधन का नेतृत्व करेगी और स्वाभाविक रूप से कांग्रेस अध्यक्ष ही एकमात्र चेहरा होंगे. इस पर हमें कोई संदेह नहीं है.’ सुरजेवाला ने कहा, ‘२००४ से पहले भी सोनिया गांधी को लेकर सवाल पूछे जाते थे. हम कहते थे कि जनता फैसला करेगी और जनता ने फैसला किया.’

सीडब्ल्यूसी की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दलितों, आदिवासियों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को निशाना बनाए जाने पर चिंता प्रकट की और कांग्रेस सदस्यों से आह्वान किया कि वे इन वर्गों के लिए ख्रड़े हों. उन्होंने यह भी कहा कि सभी विपक्षी दल मिलकर आगामी चुनाव में नरेंद्र मोदी और भाजपा को हराएंगे यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने समान विचारधारा वाली पार्टियों के बीच गठबंधन की पैरवी की और कहा कि इस प्रयास में हम सभी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ हैं.उन्होंने यह भी कहा कि मोदी सरकार की उलटी गिनती शुरू हो गई है.