Home देश क्या भारत को मुस्लिम देश बनाने की साजिश चल रही थी

क्या भारत को मुस्लिम देश बनाने की साजिश चल रही थी

SHARE

उत्तर प्रदेश से एक खबर सामने आयी जिसे देखकर सारा देश  सन्न रह जाएगा। बताया जाता है की आजादी के वक्त देश में दंगे फसाद करवाकर देश का विभाजन किया गया.इसमें देश के तीन टुकड़े करवा दिए.भारत में आज भी हालात बहुत खतरनाक हो चुके है और बताया जा रहा है की भारत को इस्लामिक देश बनाने की साजिश चल रही है.

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिल्हे में जो घटना हर दिन हो रही है जिससे आप भी चौंक जाएंगे।देवरिया जिले के समलपुर क्षेत्र में एक प्राथमिक विद्यालय जमे के दिन बंद रह चुका था.साथ ही विद्यालय रविवार को खुला होने का मामला सामने आ गया है.इस खबर के कारण उत्तरप्रदेश के प्रशासन में हड़कंप मचा है.कई रिपोर्ट्स से सामने आया की मुस्लिम प्रधानाध्यापक ने मनमानी करते हुए कथित रूप से शुक्रवार को स्कुल बंद रखने की परंपरा शुरू की है.

इसका खुलासा पिछले शुक्रवार को होने पर इसपर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए.इस खबर का पीछा करते हुए दो अधिकारियों को यहाँ पूरी जांच करने के लिए भेजा।दोनों अधिकारी शुक्रवार को गए तो उन्हें स्कूल बंद मिला साथ ही एक चौकानेवाली खबर मिली।इतना सब करने के बावजूद स्कूल की बिल्डिंग का नाम भी बदला हुआ मिला।

प्राथमिक रूप से इसका नाम विद्यालय नवलपुर होना चाहिए था लेकिन इसका नाम इस्लामिया प्राइमरी स्कूल नवलपुर पाया गया. प्रधानाध्यापक ने एक और दावा किया की उनके आने से पहले से परंपरा जारी है.विद्यालय में जरुरी पत्राचार भी उर्दू भाषा मं मिले।इसके लिए जो भी जिम्मेदार है उसपर कड़ी कार्रवाई की घोषणा दी है.

इसके साथ एक नया मामला भी सामने आया.अमरोहा जिले के दलित आबादी वाले गौतमनगर का नाम बदलकर इसका नाम इस्लामनगर रखने की साजिश चल रही थी.मुसलामानों की आबादी बढ़ते हुए यहाँ की कसबे की दुकाने और दूसरे साइनबोर्ड पर गौतमनगर की बदले इस्लामनगर का नाम इस्तेमाल किया जाता था.जैसे ही मामला सामने आया वैसे सीएम योगी ने इस पर लिया।इसका नाम फिरसे गौतमनगर करवा दिया।ुमुस्लिमों की ऐसी साजिशे देश के कई इलाकों में सामने आयी है.

वीडियो – भारत में कहाँ से आये मुसलमान