Home देश चीन अमेरिका से नहीं हो पाया वो मोदी ने कर दिखाया

चीन अमेरिका से नहीं हो पाया वो मोदी ने कर दिखाया

SHARE

एक तरफ देखा जाए तो दुनिया जबरदस्त आर्थिक मंडी में डूबती जा रही है उसके समेत भारत के  पडोसी देश चीन की तीसरी बार लगातार अर्थव्यवस्था निचे गिर रही है.लेकिन वही दुसरी तरफ भारत अपनी अर्थव्यवस्था मजबूत बनाने  में जुटा है.आज भारत दुनिया की सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है.

अर्थव्यवस्था के साथ छठे नंबर की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भी बन गया है.मोदी सरकार के कारण आज देश उन्नति के रास्ते से तेजी से बढ़ रहा है.भारत को मोदी सरकार के कारण खुशियां मिलती ही जा रही है.पीएम मोदी की आर्थिक योजनाओं के बलबूते पर आज शेयर बाजार ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है.हालाँकि कांग्रेस को ये हजम नहीं हो रहा.अभी मिली रिपोर्ट्स के मुताबिक़ कहा जा सकता है की भारतीय अर्थव्यवस्था को जैसे पंख ही लगे हो.

९ अगस्त को बॉम्बे शेयर ,मार्केट खुलते ही नया इतिहास रच दिया।शेयर बाजार का स्तर सबसे ज्यादा बढ़ गया.रोज रिकॉर्ड तोड़ता शेयर बाजार इस का मतलब है की पीएम मोदी की अगुवाई जिस तरह देश आगे बढ़ा रहा है,उससे तमाम क्षेत्रों की कंपनियो में विश्वास जग रहा है.यह सब देखकर कांग्रेस जरूर हिल गया होगा।

नोटबंदी और जीएसटी जैसे आर्थिक सुधारोंके कदम उठाने के बाद आर्थिक जगत में मोदी सरकार के कारण भारत उन्नति के रास्ते पर है.इसके समेत कंपनियां,शेयर बाजार,आम लोग सभी सरकार की नीतियों पर भरोसा रखते है, अभी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पता चलता है की २०१९ में लोकसभा चुनाव का परिणाम मजबूत आया और मोदी सरकार ही फिरस आयी तो अगले साल सेंसेक्स ४४००० तक जाने की आशंका जताई जा चुकी है.

अगर परिणाम कमजोर तो सेंसेक्स ३०००० तक ही जा सकता है.इससे पहले हांगकांग स्थित इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी ने कहा था की भारत की आर्थिक प्रगति के लिए नरेंद्र मोदी को फिरसे प्रधानमंत्री बनना जरुरी है.आपको याद होगा तो पिछली यूपीए सरकार के दौरान जनवरी में २०१४ में सेंसेक्स करीब २२से २३ हजार के आसपास ही रहता था.मोदी सरकार लगातार अपने फैसलो से हर तरफ से देश को मजबूत बना रहा है.

पूनम महाजन की जबरदस्त स्पीच, दीदी ममता को लगाई दहाड़ ! दिया नया नाम ममता अमानुष