Home देश चीन से आयी इस ख़ुफ़िया रिपोर्ट को देखने के बाद खुद PM...

चीन से आयी इस ख़ुफ़िया रिपोर्ट को देखने के बाद खुद PM मोदी के भी उड़े होश

SHARE

चीन और भारत के बिच चल रहे विवादों में एक और सनसनाती खुलासा हुआ है. ख़ुफ़िया एजेंसीओं के रेपोर्ट के अनुसार भारत में बेचे जाने वाले चीनी फोन में ग्राहकों का निजी डाटा दूसरी एजेंसीओं को बेच रहा है.

भारत में चीनी उत्पादों का आयात बहुत बड़ी मात्र में होता है. इसमें इलेक्ट्रॉनिक चीजों का सहभाग भी बड़ी मात्र में होता है. चीन की ख़ुफ़िया एजेंसीओ से मिली एक जानकारी के अनुसार चीन की मोबाइल फोन कंपनियां अपने ग्राहकों का निजी डाटा कुछ एजेंसीओ को ख़ुफ़िया तरीके से बेच रहा है. इसमें ग्राहकों के बैंक खाते की जानकारी, पासवर्ड तथा तस्वीरों का भी समावेश हो सकता है. इस खबर ने भारत में इतनी खलबली मचा दी देश की केन्द्रीय टेलिकॉम और आई टी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक उच्चक स्तर बैठक बुला ली. इस बैठक में उन्होंने ये स्पष्ट किया की भारत में व्यापार कर रही सभी मोबाइल फोन कंपनियों को अपने मोबाइल फोन की सिक्यूरिटी के बारे में सभी जानकारी भारत सरकार को अनियमित रूप से पहुंचानी होगी.

भारत सरकार ने कुल २१ मोबाइल कंपनियों को नोटिस भेजे है. चीनी ख़ुफ़िया एजेंसी का कहना है की चीनी मोबाइल कंपनीयां अपने ग्राहकों की कांटेक्ट लिस्ट, पासवर्ड, लोकेशन और ऐसी कई और जानकारी चीन भेजे जा रहे है. आज के डिजिटल युग में ज्यादा से ज्यादा लोग अपना सारा डाटा अपने फोन में ही रखते है. चीन के साथ ही कुछ भारतीय कंपनियां जैसे माइक्रोमैक्स, स्पाइस, लावा, कार्बन को भी नोटिस भेजे गए है. चीनी कंपनियों में शिओमी, ओप्पो, विवो जैसी बड़ी कंपनियों के नाम शामिल है. आईफोन और सैमसंग कंपनी से भी जानकारी मांगी गयी है. भारत के सरकारी अधिकारियों, भारतीय सेना वा सुरक्षा से जुडी जानकारी रखने वाले लोगों का इन फोन को इस्तेमाल करना काफी खतरनाक साबित हो सकता है. क्योंकि इस तरह देश की खुफिया बातें आसानी से चीन तक पहुँच सकती है,