Home देश देश में चल राहर किसानों के आंदोलन को लेकर ये बड़ी खबर...

देश में चल राहर किसानों के आंदोलन को लेकर ये बड़ी खबर आयी सामने

SHARE

देश के सात राज्यों के लाखों किसानों के ‘गांव बंद’ का आज दूसरा दिन है. आज शहरों में सप्लाई होने वाले दूध फल सब्ज़ी की सप्लाई आज से प्रभावित होनी शुरु हो सकती है. १३० किसान संगठनों के राष्ट्रीय किसान महासंघ ने ‘गांव बंद’ घोषणा की है. देश के प्रमुख ३० हाइवे पर किसान आज धरने पर बैठेंगे.

इनकी मांग है कि दूध का न्यूनतम मूल्य २७ रुपये लीटर उन्हें मिले साथ ही किसानों की क़र्ज़ माफ़ी हो और अनाज की सही कीमत उन्हें दी जाए.मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन के तहत ‘गांव बंद’ के पहले दिन शुक्रवार को छोटे शहरों में इसका व्यापक असर रहा. किसी गांव से फल, सब्जियां व दूध शहर नहीं आया, जिससे लोगों को परेशानी हुई. शहरों में मौजूद सब्जियों के दाम बढ़ गए. राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा ने १० जून को भारत बंद का ऐलान किया है. पिछले साल ६ जून को मंदसौर जिले में किसानों पर पुलिस जवानों द्वारा की गई फायरिंग और पिटाई में सात किसानों की मौत की पहली बरसी पर किसानों ने १० दिवसीय आंदोलन शुरू किया गया है.मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब और महाराष्ट्र समेत कई राज्यों के किसान संगठनों ने इस बंद का समर्थन किया है, जिसकी वजह से सब्जियों और दूध की किल्लत का लोगों को सामना करना पड़ सकता है.

राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा का बयान आया है. शिवकुमार शर्मा ने कहा है कि १३० संगठन हमारे साथ हैं और ये देशव्यापी आंदोलन है। इसका नाम ‘गांव बंद’ दिया गया है. उन्होंने कहा कि हम शहर में नहीं जायेंगे. हम लोगों की दिनचर्या को प्रभावित नहीं करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि १० जून को भारत बंद रहेगा. सभी व्यापारियों से अपील है कि अपनी दुकानें १० जून दोपहर २ बजे तक बंद रखें और पिछले सालों के दौरान जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि दें।इसके पहले इंडियन फार्मर्स एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रधान सतनाम सिंह ने कहा था कि बंद के दौरान किसान दूध, सब्जी और चारा शहर में नहीं बेचेंगे और ना ही बाजार से खरीदेंगे. उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों से परेशान किसान लगातार खुदकुशी कर रहे हैं.