Home देश नौकरियों को लेकर एक्शन आया ये अरब देश, किया ये बड़ा एलान

नौकरियों को लेकर एक्शन आया ये अरब देश, किया ये बड़ा एलान

SHARE

सऊदी अरब में हालाकि हुए बदल में सऊदी का अब प्रगति का नया रूप सामने आया है.सऊदी अरब के कुछ नयी योजनाओं के कारण देश के उत्पन्न में भी इसका बदलाव नजर आ रहा है.सऊदी अरब सरकार भी अपने नागरिको का सुफल जीवन बनाने की कोशिश में लगा  है.अब यहाँ दुनियाभर के मुस्लिमों को भी फायदा होगा.

सऊदी अरब का प्रशासन  कई दिनों से अपने नागरिको को नौकरी दिलाने के लिए तलाश कर रहा है.सऊदी अरब के प्रशासन में अब नया प्रस्ताव निकल आया है, जिससे अब हजारो नौकरिया बाहर निकलेगी.सऊदी अरब के परिवहन मंत्री ने कहा की अरबी प्रशासन देश के परिवहन स्थिति को सुधरने की कोशिश  कर रहे है.सऊदी अरबी के प्रशासन ने इस इस बारे में विदेशी कंपनियों के साथ भी प्रारंभिक चर्चा की है.अपनी राजमार्ग प्रणाली के हिस्से को टोल सड़कों में बदलने की योजना बनाई है. सऊदी अरब की इस नयी योजना से परिवहन सिस्टम अधिक कुशल बनाने में मदद हो चुकी है.इसके चलते हुए सऊदी ने विदेशी कंपनियों के साथ एक सौदा किया है.अरब न्यूज़ के रिपोर्ट के मुताबिक़ रविवार को जेद्दाह में सऊदी अरब के व्यापारियों के साथ एक व्यापार सम्मेलन किया था.

रविवार को हुए व्यापार सम्मलेन के दौरान नबील अल-अमुदी ने एक इंटरव्यू में कहा हम कई बसों के साथ सार्वजनिक परिवहन सिस्टम विकसित कर रहे हैं.अल-अमुदी ने आगे जाकर कहा की हम कई बसों के साथ सार्वजनिक परिवहन सिस्टम विकसित कर रहे हैं, इसलिए हम देखना चाहते हैं कि हम घरेलू उद्योग को विकसित करने के लिए इसका फायदा कैसे उठा सकते हैं. जिससे सऊदी अरब के ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार मिल सके.इसके साथ पत्रकारों ने उन्हें कंपनियों का नाम भी पूछा .लेकिन सऊदी अरेबिया ने परिवहन सेवा के लिए जिन कंपनियों के साथ सौदा किया है इनका नाम जाहिर करने से इनकार किया.वैसे सऊदी अरब एक महत्वपूर्ण गाड़ियों का निर्माण उद्योग नहीं है. सऊदी अरब की राजधानी रियाद और अन्य बड़े शहरों में परिवहन सिस्टम विस्तार करने के लिए अरबों डॉलर खर्च किये का रहे है.

पिछले कुछ वर्षों में हजारों बसों का आयात किया है.अरब न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक़ पिछले मई को जर्मन वाहन निर्माता डेमलर को 600 मर्सिडीज-बेंज सीटारो बसों के लिए रियाद से एक आदेश मिला था.जो इसके बस प्रभाग के इतिहास में वाहनों का सबसे बड़ा आदेश था. पिछले महीने चीन यूचई इंटरनेशनल ने सऊदी अरब में 800 बसों की डिलीवरी की घोषना को थी.स्थानीय रूप से वाहनों का निर्माण सऊदी अरब को नौकरियों का निर्माण और घरेलू उद्योग का विस्तार करते समय आयात लागत पर बचत करने की अनुमति भी देगा. आर्थिक सुधार कार्यक्रम के प्रमुख लक्ष्यों को तेल निर्यात पर अर्थव्यवस्था की निर्भरता को कम करने के लिए सऊदी सरकार ने यह कदम उठाया है.सऊदी परिवहन मंत्री ने कहा कि संभावित बस परियोजना सऊदी अरब में वाहनों और हिस्सों के उत्पादन पर व्यवहार्यता अध्ययन करने के लिए पिछले साल मार्च में टोयोटा मोटर कॉर्प द्वारा हस्ताक्षरित समझ के ज्ञापन से अलग थी.

दुनियाभर के मुस्लिम पर्यटकों के लिए सऊदी अरब ने एक नयी योजना लॉन्च किया. जिससे दुनियाभर के मुस्लिमों को यहाँ प्रवेश मिलेगा. विज़न 2030 के तहत देश में पहली बार देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए पर्यटन वीजा देने की घोषणा की गयी थी. पहले सऊदी अरब में हज और उमराह के अलावा किसी दुसरे देश क घुमने की इजाजत नहीं थी.लेकिन सऊदी अरब में बदलाव नजर आ रहा है.सऊदी आयोग फॉर टूरिज्म एंड नेशनल हेरिटेज (एससीटीएच) ने दुनियाभर से मुस्लिम पर्यटकों को पसंदीदा गंतव्य बनाने के लिए नयी पहल शुरू की है .इसका पहला नाम रखा “डेस्टिनेशन ऑफ़ मुस्लिम “जिसका अर्थ है “मुस्लिमों का गंतव्य “एससीटीएच के प्रवक्ता सऊद अल-मोगबिल के मुताबिक, यह सभी पहल राष्ट्रीय परिवर्तन कार्यक्रम 2020 की प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर के बीच की साझेदारी के मॉडल की मांग करती हैं.

अरब न्यूज़ के रिपोर्ट के अनुसार ससीटीएच एक पब्लिक/प्राइवेट सेक्टर साझेदारी की पहल का निर्माण कर रही है जो राष्ट्रीय पर्यटन क्षेत्र को बदल देगी और सऊदी विजन 2030 में महत्वपूर्ण योगदान देगी.उन्होंने साथ यह भी बताया की एससीटीएच प्रमुख भागीदारों जैसे आंतरिक, विदेशी मामलों, हज और उमराह और सऊदी अरब एयरलाइंस के मंत्रालयों के साथ जुड़ रहा है.उन्होंने ये भी कहा की एससीटीएच के अध्यक्ष प्रिंस सुल्तान बिन सलमान इस पहल के मास्टरमाइंड हैं, जिनका यह कार्यक्रम सऊदी विजन 2030 का हिस्सा है. उन्होंने कहा की सऊदी विज़न 2030 के तहत पर्यटन एक महत्वपूर्ण स्तम्भ है जिसे स्थायी रणनीतिक क्षेत्रों में से एक के रूप में पहचाना गया है. डेस्टिनेशन ऑफ़ मुस्लिम पहल उमराह यात्रियों को उनके धार्मिक अनुष्ठानों को पूरा करने के बाद उच्च गुणवत्ता वाले पर्यटन उत्पादों का आनंद उठाकर उनकी यात्रा को समृद्ध करने में सक्षम करेगी.

सऊदी अरब की ये योजना मुख्य रूप से चार समूहों को लक्षित करती है. इनमे उमराह यात्री, मुस्लिम व्यवसायी, अन्य मुस्लिम देशों के राज्य अतिथि, और मुस्लिम पारगमन यात्रियों इनका समावेश होता है.सऊदी अरब के प्रशसन ने कहा की एससीटीएच एक पर्यटन वातावरण बनाने के लिए बुनियादी ढांचे और प्रशिक्षण के एक महत्वाकांक्षी विकास कार्यक्रम में लगी हुई है जो इन पर्यटन अनुभवों को प्रदान कर सकती है.हज पर जाने वालों के लिए सऊदी अरब के सरकार ने रजिस्ट्रेशन डेट घोषित की है.अरब न्यूज के अनुसार मंत्रालय ने कहा कि स्थानीय हज कंपनियां जल्द ही घरेलू तीर्थयात्रियों को पंजीकृत करना शुरू कर देंगी. जिसमे तीर्थयात्रियों को उनके लिए उपयुक्त सेवाओं और कीमतों का चयन करने का अवसर दिया जाएगा.मंत्रालय ने प्रक्रिया को दो चरणों में विभाजित किया है. जिसमे पहला एक वैकल्पिक चरण है जो हज कार्यक्रमों के पैकेज और प्रोग्राम को सूचीबद्ध करता है और यह चरण 30 मई को शुरू होगा और 13 जुलाई को समाप्त होगा.