Home देश बंगाल में मिशन २०१९ के लिए अमित शाह ने उठाया ये बड़ा...

बंगाल में मिशन २०१९ के लिए अमित शाह ने उठाया ये बड़ा कदम,भाजपा के लिए जीत पक्की

SHARE
मिशन २०१९ के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दो दिवसीय दौरे पर पश्चिम बंगाल आ रहे हैं. उनका दो दिवसीय दौरा महीने के आखिर यानि २७ व २८ जून को प्रस्तावित है. पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वे २७ जून को कोलकाता पहुंचेंगे. इसके अगले दिन वे पुरुलिया जाएंगे.
पश्चिम बंगाल में हालिया उपचुनाव (महेशतला विधानसभा सीट) और पंचायत चुनाव के नतीजों से यह साफ दिख रहा है कि ममता बनर्जी के गढ़ में भाजपा अपनी पैठ बेहद मजबूत कर रही है. पंचायत चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के वोट शेयर में काफी इजाफा हुआ है. दिलचस्प बात यह है कि यह इजाफा पिछले कुछ समय से बढ़ता जा रहा है. इसी बात से उत्साहित होकर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह लोकसभा चुनाव में इसका फायदा लेने के इरादे से बंगाल को साधने एक लंबे अंतराल के बाद इस महीने बंगाल का दौरा करेंगे. अमित शाह २७-२८ जून को बंगाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, हिंदूवादी संगठनों और पार्टी नेताओं से मिलकर २०१९ की तैयारियों का जायजा लेंगे. पार्टी सूत्रों के मुताबिक भाजपा ने राज्य में कम से कम २० लोकसभा सीटें अपने खाते में करने का लक्ष्य बनाया है.हालांकि पिछले चुनावों में पार्टी को केवल दो सीटें मिली थीं, लेकिन बढ़ते हुए वोट शेयर के आधार पर अधिक सीटों पर उम्मीद लगाई जा रही है.
खासकर महेशतला में पार्टी का वोट प्रतिशत ८ फीसदी के मुकाबले ३५ प्रतिशत जा पहुंचा है. बीजेपी भले ही वहां बड़े अंतर से दूसरे स्थान पर रही गई, लेकिन फिर भी इसे अच्छा संकेत माना जा सकता है.राजनीतिक जानकारों का कहना है कि भाजपा के आधार में होती बढ़ोतरी से सत्तारूढ़ तृणमूल के लिए चिंता की लकीरें खिंचने लगी हैं. पार्टी को सबसे बड़ा झटका आदिवासी इलाकों में लगा है, जहां उसका आधार कमजोर हो गया है. आदिवासी आबादी वाले कम से कम पांच जिलों में तृणमूल ने पंचायत चुनाव में भाजपा के हाथों कई सीटें गंवायीं. सबसे ज्यादा नुकसान झाड़ग्राम, बांकुड़ा और पुरुलिया में हुआ, जहां भाजपा ने पंचायत चुनाव में कम से कम ३०-४० प्रतिशत सीटों पर कब्जा कर लिया.जाहिर है हाल ही में हुए उपचुनावों और पंचायत चुनावों में मिली सफलता से बीजेपी का उत्साहित होना लाजिमी है. ऐसे में ये देखने वाली बात होगी कि बीजेपी अपने मिशन-२० में कामयाब होती है या नहीं.