Home देश भारत से बातचीत करने को इमरान खान तैयार

भारत से बातचीत करने को इमरान खान तैयार

SHARE

पाकिस्तान के आम चुनाव में इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ(पीटीआई) ने बंपर जीत हासिल कर ली है. ऐसे में इमरान खान का प्रधानमंत्री बनना तय हुआ है. अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिख रहे पीटीआई अध्यक्ष इमरान खान ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की.

इमरान खान ने इस प्रेस कॉनफेरेन्स में गरीबी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद से लेकर कश्मीर मुद्दे पर बात की. इमरान खान ने कहा ‘मैं अल्लाह का धन्यवाद करना चाहता हूं. २२ सालों की कड़ी मेहनत के बाद मेरी दुआओं का जवाब मिला है. मुझे मेरे सपनों को साकार करने और देश की सेवा करना का मौका मिला है.’ इमरान ने कहा कि हम पाकिस्तान में लोकतंत्र को मजबूत होते देख रहे हैं. कई आतंकी हमलों के बावजूद चुनावों का सफल आयोजन हुआ, इसके लिए मैं सुरक्षाबलों को बधाई देना चाहता हूं.

इमरान खान ने आगे कहा कि गरीबी एक बड़ा चैलेंज है हमे इसके खिलाफ लड़ना है. चीन हमारे लिए एक बड़ा उदाहरण है. पिछले ३० सालों में चीन ने ७० करोड़ लोग गरीबी रेखा से बाहर आए. हम देश के किसान, गरीब तबके के लिए काम करेंगे. हम कमजोर तबके के लिए नीतियां बनाएंगे. मैं पाकिस्तान में इंसानियत का राज कायम करना चाहता हूं.

इमरान खान ने प्रधानमंत्री आवास में नहीं रहने का एलान किया है. उन्होंने कहा कि पहले नेता, सत्ताधारी दल खुद पर खर्च करते थे लेकिन आज से ऐसा नहीं होगा. मैं पीएम हाउस में नहीं रहूंगा. मैं जनता के टैक्स की हिफाजत करूंगा. इमरान खान ने कश्मीर मु्द्दे को लेकर भी अपनी राय रखी. उन्होंने कहा ‘कश्मीरी लोग पिछले कई सालों से कष्ट झेल रहे हैं. हमें टेबल पर एक साथ बैठकर कश्मीर मुद्दे को सुलझाना है. अगर, भारतीय नेतृत्व ये चाहता है तो दोनों देश बातचीत के जरिए इसे सुलझा सकते हैं.

यह भारत-पाक दोनों के लिए अच्छा होगा. अगर भारत इस मसले पर एक कदम आगे बढ़ता है तो हम दो कदम आगे बढ़ेंगे. अगर हिंदुस्तान का नेतृत्व हमारे साथ रिश्ते बेहतर करने के लिए तैयार है, तो हम भी इसके लिए तैयार हैं.’ इमरान खान ने यह भी कहा कि हिंदुस्तान की मीडिया ने मुझे बॉलीवुड के विलेन की तरह पेश किया है.