Home देश ममता के किले में पहुंचेगे अमित शाह

ममता के किले में पहुंचेगे अमित शाह

SHARE

असम नागरिकता विवाद पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बीच पहले से ही तू तू में में जारी है. ऐसे में अमित शाह ११ अगस्त को कोलकाता में रैली करेंगे. बता दे की शाह ने एनआरसी मुद्दे पर पलटवार के लिए सीएम ममता को तैयार रहने को कहा गया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ बता दे की शाह की रैली से पहले ही बीजेपी नेताओं ने संकेत दे दिए है कि पश्चिम बंगाल में अवैध बांग्लादेशी घुसपैठ की समस्या को वे चुनावी मुद्दा बनाने वाले है. ऐसे में यह बात तो साफ़ है की भाजपा के चाणक्‍य एनआरसी के मुद्दे पर आक्रामक मूड में है. इसके साथ ही बीजेपी बंगाल में भी असम की तरह ही एनआरसी लाने की जमीन तैयार करने में जुट गई है.

खबरों की माने ममता बनर्जी ने दिल्ली पहुंचकर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. ममता सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने का भाजपा के लिए यह समय सबसे ज्‍यादा मुफीद है, क्‍योंकि बंगाल की सीएम ने भाजपा के एजेंडे पर उन्‍हें चुनौती दी है, जिसे भाजपा ने समय गवाए बगैर स्‍वीकार कर लिया है यह बताया जा रहा है.

बता दे की एक तरफ मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी दिल्ली में विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर एनआरसी के मुद्दे पर उन्हें बीजेपी के खिलाफ एकजुट करने की कोशिश में जुटी हुई है. वहीं दूसरी तरफ शाह की प्रस्तावित रैली का मकसद इसे लोकसभा के लिए चुनावी मुद्दा बनाना है. अमित शाह की प्रस्तावित रैली से पता चलता है कि वह ममता बनर्जी के गढ़ में इस मुद्दे को बड़ा चुनावी मुद्दा बनाएंगे, क्योंकि लोकसभा चुनाव के लिए महज आठ महीने बचे है.

जानकारी के मुताबिक़ शाह ने राज्‍यसभा में भाषण देकर साफ कर दिया है कि हममें हिम्‍मत है एनआरसी को लागू करने की. इतना ही नहीं हम बांग्‍लादेशियों को असम से बाहर निकालने के बाद पश्चिम बंगाल से भी बाहर निकालर दिखाएंगे. उन्‍होंने ममता बनर्जी का साफ कर दिया है कि इस मुद्दे पर भाजपा बंगाल में भी आरपार की लड़ाई लड़ेगी. ऐसे में अमित शाह के पश्चिम बंगाल के दौरे पर क्या होगा यह देखना दिलचस्प होगा.