Home देश मराठा आरक्षण पर शाह और भागवत के बिच मुलाक़ात

मराठा आरक्षण पर शाह और भागवत के बिच मुलाक़ात

SHARE

महाराष्ट्र में सरकारी नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समुदाय की ओर से किए जा रहे आंदोलन की पृष्ठभूमि में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने यहां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात की. आरएसएस के स्थानीय कार्यालय ‘यशवंत भवन’ में शाह और भागवत की मुलाकात शनिवार को हुई.

दोनों के बीच किन विषयों पर चर्चा हुई, इस बारे में पता नहीं चल सका है. बहरहाल, बीजेपी के एक सूत्र ने बताया कि शाह और भागवत ने महाराष्ट्र में सत्ताधारी पार्टी को मजबूत करने के तौर-तरीकों पर चर्चा की, लेकिन आरक्षण के मुद्दे पर बातचीत नहीं हुई. गौरतलब है कि २०१९ में लोकसभा और महाराष्ट्र विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं. उन्होंने कहा कि यह बैठक बहुत पहले से तय थी और सरकारी नौकरियों एवं शिक्षा में १६ फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे मराठा समुदाय द्वारा किए जा रहे आंदोलन से इसका कोई लेना-देना नहीं था.

बीजेपी के सूत्र ने बताया, ‘यह बैठक कई महीने पहले तय की गई थी और यह महज एक घंटे चली. यह संयोग है कि मुख्यमंत्री की ओर से बुलाई गई सर्वदलीय बैठक की पृष्ठभूमि में यह मुलाकात हुई.’ महाराष्ट्र सरकार ने आरक्षण के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए कल एक सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. राज्यव्यापी आंदोलन से बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार के निपटने के तौर-तरीकों की आलोचना हो रही है.

इस हफ्ते मुंबई, नवी मुंबई और मराठावाड़ा के कुछ इलाकों में यह आंदोलन हिंसक हो गया था. इसे हफ्ते की शुरुआत में शिवसेना सांसद संजय राउत ने दावा किया था कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पद से हटाने के लिए ‘‘बीजेपी में बातचीत चल रही है.’’ हालांकि, बीजेपी के कई वरिष्ठ मंत्रियों ने इन बातों को खारिज कर दिया था.

सूत्र ने बताया कि फडणवीस को मुख्यमंत्री पद से हटाने को लेकर बीजेपी के भीतर कोई चर्चा नहीं हो रही. उसने कहा कि मुख्यमंत्री मौजूदा विरोध प्रदर्शनों से निपटने के लिए ‘पर्याप्त रूप से सक्षम’ हैं. शाह शनिवार को मुंबई की एक दिन की यात्रा पर थे, जिस दौरान उन्होंने भागवत से मुलाकात की. अपनी मुंबई यात्रा के दौरान शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शुरुआती जीवन पर आधारित फिल्म ‘चलो जीते हैं’ की विशेष प्रीव्यू स्क्रीनिंग देखी.