Home देश मोदी ने उद्योगपतियों का अपमान करना कहा गलत

मोदी ने उद्योगपतियों का अपमान करना कहा गलत

SHARE

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उद्योपतियों की विकास के निर्माण में अहम भूमिका है और उन्हें चोर-लुटेरा कहकर अपमानित करना पूरी तरह से गलत है. मोदी ने कहा कि विपक्षी दल अक्सर देश के बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाते हैं. यह आरोप सही है अगर विकास को बढ़ाने के लिए मजदूर, कारीगरों की मेहनत काम करती है और इसमें देश के उद्योगपतियों की अहम भूमिका होती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हिन्दुस्तान को बनाने में उद्योगपतियों की भी भूमिका होती है और उन्हें चोर लुटेरा कहना या अपमानित करना पूर्णतया गलत है. विपक्षी दलों द्वारा अक्‍सर देश के बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के आरोपों का सामना करने वाले पीएम मोदी ने कहा, ‘अगर हिन्दुस्तान को बनाने में एक किसान, एक कारीगर, एक बैंकर फाइनेंसर, सरकारी मुलाजिम, मजदूर की मेहनत काम करती है तो इसमें देश के उद्योगपतियों की भी भूमिका होती है …हम उनको अपमानित करेंगे, चोर लुटेरा कहेंगे… ये कौन सा तरीका है.’

उन्होंने यहां विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास के मौके पर कहा, ‘पहले पर्दे के पीछे बहुत कुछ होता था. देश में कोई भी ऐसा उद्योगपति नहीं होगा जो सरकार के सामने जाकर दंडवत ना होता हो.’ साथ ही हल्के-फुल्के अंदाज में उन्होंने कहा, ‘अमर सिंह बैठे हुए हैं. सारी हिस्ट्री निकाल देंगे.’

कार्यक्रम में पूर्व सपा नेता अमर सिंह भी मौजूद थे.प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘लेकिन जब नीयत साफ हो, इरादे नेक हों तो किसी के साथ खड़े होने से दाग नहीं लगते. महात्मा गांधी का जीवन जितना पवित्र था, उनको बिड़ला के परिवार में जाकर रहने में कभी संकोच नहीं हुआ क्योंकि उनकी नीयत साफ थी.’ उन्होंने कहा कि पहले ये नहीं होता था क्योंकि परदे के पीछे बहुत कुछ होता था. पीएम मोदी ने साथ ही चेताया, ‘हां जो गलत करेगा, उसे जेल में जिंदगी बितानी होगी.’

उन्होंने कहा कि देश को आगे बढ़ने के लिए हर किसी के साथ सहयोग की आवश्यकता है. प्रधानमंत्री मोदी ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में ६० हजार करोड़ रुपये की ८१ परियोजनाओं का शिलान्यास किया. उन्होंने इतने बड़े निवेश की परियोजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम के साथ-साथ अधिकारियों को बधाई दी.