Home देश मोदी सरकार इस देश पर किसी भी समय कर सकती है सर्जिकल...

मोदी सरकार इस देश पर किसी भी समय कर सकती है सर्जिकल स्ट्राइक, ये वजह आयी सामने

SHARE

प्रदेश में चुनावों को भले ही अभी वक्त हो, लेकिन बीजेपी ने महासंपर्क अभियान के जरिए २०१९ की प्लानिंग पर काम शुरू कर दिया है. सूत्रों की माने इसी कड़ी में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पूर्व आर्मी चीफ दलबीर सुहाग से मिलने उनके घर पहुंचे थे. इस मुलाकात के मायने भी बेहद खास है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज संपर्क फॉर समर्थन अभियान की शुरुआत की. लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सरकार के कामकाज को जनता तक पहुचाने के लिए, खुद पार्टी अध्यक्ष से लेकर ५० लाख कार्यकर्ता तक घर-घर संपर्क करेंगे. इसी अभियान के तहत अमित शाह ने आज पूर्व आर्मी चीफ दलबीर सिंह सुहाग और संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप से मुलाकात की. अमित शाह ने जनरल सुहाग से मुलाकात के दौरान पूर्व सेनाध्यक्ष को पार्टी की कामयाबियों पर कुछ बुकलेट्स सौंपे. पूर्व सेनाध्यक्ष से अमित शाह की मुलाक़ात को दो तरीके से देखा जा रहा है. पहला तो यह कि पार्टी से दूर हो रहे जाटों को करीब लाने का प्रयास और दूसरा सेना से ‘प्रेम’ को लेकर संदेश देना. सितंबर २०१६ में पाकिस्तान के खिलाफ की गई सर्जिकल स्ट्राइक के वक्त जनरल दलबीर सिंह सुहाग भारतीय सेना के प्रमुख थे. जनरल सुहाग हरियाणा के रहने वाले हैं और उनका तालुक्क जाट समुदाय से है.

बीजेपी अध्यक्ष से मुलाकात के बाद जनरल सुहाग ने कहा, ”अमित शाह जी ने आज मुलाकात की और गरीब, किसान और गांव के मुद्दे पर बातचीत हुई. सरकार की योजनाओं के बारे में बात हुई. मैं किसान परिवार से आता हूं और गांव में पला बढ़ा हूं, इसलिए मैं इन चीजों को समझता हूं.” जनरल सुहाग ने कहा, ”कश्मीर में सेना अच्छा काम कर रही है और जरूरत पड़ी तो दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे. ये आखरी सर्जिकल स्ट्राइक नहीं था.” बता दें कि जनरल दलबीर सिंह सुहाग उस वक्त आर्मी चीफ थे जब भारत ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक की थी. अमित शाह ने जनरल सुहाग को केंद्र सरकार के कामकाज को बताने वाली दो बुकलेट और एक पेन ड्राइव भेंट की. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का दूसरा ठिकाना संविधान विशेषज्ञ सुभष कश्यप का घर था. डॉक्टर कश्यप ने अमित शाह को रामायण, गीता और संविधान की प्रति भेंट की. अमित शाह ने केंद्र सरकार के कामकाज की बुकलेट सौंपी.