Home देश रमजान के ऐन मौके पर पाकिस्तान ने किया था ये बड़ा काण्ड

रमजान के ऐन मौके पर पाकिस्तान ने किया था ये बड़ा काण्ड

SHARE

जम्मू-कश्मीर में खुफिया विभाग ने घाटी में अलर्ट जारी किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक श्रीनगर में अगले २-३ दिन में फिदायीन हमले और आतंकियों द्वारा हिट एंड रन की घटना को अंजाम देने की आशंका है. हमला सुरक्षाबलों और उससे जुड़े संस्थानों पर भी हो सकता है यह बताया जा रहा है.

खुफिया सूत्रों से मिली अलर्ट के बाद पता चला है कि घाटी में सक्रिय आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद एक बड़ी आतंकी हमले को अंदाम देने के फिराक में जुटा है. एक अधिकारी के मुताबिक, सीमा पार से जम्म-कश्मीर में २० आतंकियों के घुसपैठ की खबर है. आशंका है कि ज्यादातर आतंकी जैश-ए-मोहम्मद संगठन के है. जानकारी के मुताबिक जंग-ए-ब़दर के मौके पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी फिदायीन हमला कर सकते है. इसके लिए खास तौर से जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर मुफ्ती असगर ने निर्देश जारी किए है. अधिकारियों बताया कि सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रहने और समूचे राज्य में संवेदनशील सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर नजर बनाए रखने के लिए कहा गया है. सूत्रों की माने अफसरों ने कहा कि एक बार में इतनी बड़ी संख्या में आतंकवादियों का घुसपैठ करना असामान्य बात है.

जानकारी के मुताबिक़ अधिकारी ने कहा कि खबर है कि आंतकी कई गुटों में बंटे हुए है और खुफिया जानकारी की मानें तो रमजान के १७ वें दिन शनिवार को बद्र की लड़ाई की बरसी पर आतंकी हमले को अंजाम दे सकते है. बता दे कि बद्र की लड़ाई सन् ६२४ में नवोदित मुस्लिम गुट और मक्का के क़ुरैश क़बीले की सेना के बीच आधुनिक सउदी अरब के हिजाज़ क्षेत्र में १३ मार्च को लड़ा गया था. शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ की १८३ बटालियन के बंकर पर ग्रेनेड से हमला और फायरिंग की यह हमला उस वक्त हुआ जब सीआरपीएफ की बटालियन पुलवामा में ईदगाह की ओर जा रहे थे. इस हमले में कोई हताहत नहीं हुआ है. आतंकवादी सेना के बंकर पर फायरिंग कर फरार हो गए. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि ४ साल के कार्यकाल में सुरक्षाबलों ने ६१९ आतंकियों को मार गिराया तो वहीं, पिछली सरकार में यह आंकड़ा ४७१ था यह जानकारी मली है.