Home देश राफेल डील को लेकर फिर हुआ ये नया खुलासा, कांग्रेस की बोलती...

राफेल डील को लेकर फिर हुआ ये नया खुलासा, कांग्रेस की बोलती हुई बंद

SHARE

देशभर में राफेल विमान सौदे को लेकर सियासी गरमाई हुई है. लेकिन अभी मिली खबर के मुताबिक़ राफेल को लेकर एक नया खुलासा हुआ है. बता दे की मोदी सरकार के दौरान हुई राफेल डील यूपीए सरकार की तुलना में हर विमान ५९ करोड़ रुपये सस्ती है. यानी हर राफेल विमान पर मोदी सरकार ने मनमोहन सरकार की तुलना में ५९ करोड रुपये बचाए है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ बता दे की यूपीए सरकार के दौरान ३६ राफेल विमान का सौदा १.६९ लाख करोड़ में किया गया था, जबकि मोदी सरकार ने यही सौदा ५९ हजार करोड़ रुपये में किया गया. खबरों की माने मोदी सरकार ने इस विशेष विमान की डील में देश का पैसा बचाया है और कांग्रेस सरकार की तुलना में हर विमान का सौदा ५९ करोड़ रुपये सस्ता किया गया है.

बता दे की दस्तावेजों से ये जानकारी भी सामने आई है कि मोदी सरकार ने जिस विमान की डील की है, उसमें भारत के लिए विशेष रूप से १३ चीजें बढ़ाई गई है, जो दूसरे देशों को नहीं दी जाती है. अब ऐसे में मनमोहन सिंह के कार्यकाल में एक हेलीकॉप्टर की कीमत १७०५ करोड़ थी और मोदी सरकार ने एक विमान का सौदा १६४६ करोड़ रुपये में किया यह साबित हो गया है.

बता दे की कांग्रेस राफेल डील को लेकर लंबे समय से मोदी सरकार के खिलाफ आवाज उठा रही है. सड़क से लेकर संसद तक और प्रेस कॉन्फ्रेंस से लेकर सोशल मीडिया तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनके नेता मोदी सरकार पर राफेल डील में घोटाले का आरोप लगाते रहे है. कांग्रेस का दावा है कि यूपीए सरकार ने जिस हेलीकॉप्टर की डील की थी, उसी हेलीकॉप्टर को मोदी सरकार तीन गुना कीमत में खरीद रही है.

इस विमान के अंदर METEOR और SCALP जैसी मिसाइलें भी है, जो यूपीए की डील के तहत लिए जा रहे विमान में नहीं थी. जानकारी के मुताबिक जिस हेलीकॉप्टर की डील मोदी सरकार ने की है वह यूपीए सरकार द्वारा लिए जा रहे विमान से काफी ज्यादा असरदार और तकनीकी रूप से अधिक सक्षम बताया जा रहा है.