Home देश कांग्रेस परेशान हुआ है

कांग्रेस परेशान हुआ है

SHARE

२५ जुलाई को पकिस्तान में आम चुनाव हो चुके है. पाकिस्तान चुनाव २०१८ की आज मतगणना हो रहा ही है. इस मतगणना में इमरान खान की पार्टी तहरीक ए तालिबान को सबसे ज्यादा ११३ सीटों पर बढ़त मिल गई है. जबकि नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग ६४ सीटों के साथ दूसरे नंबर है.

इसके अलावा विलाबल भुट्टों की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी को ४३ सीटें मिली है और तीसरे नंबर पर है. इसके अलावा एमक्यूएम को ५ और एमएमए को ९ सीटों पर बढ़त मिली हुई है. इमरान खान की बढ़त पर भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा कि मुझे लगता है कि यह पूरी तरह से अनुमान लगाया जा सकता था.

उन्होंने कहा कि पिछले साल भी हम यह सुन रहे थे कि सेना एक बदलाव चाहता है, वे नवाज शरीफ और उनकी पार्टी से छुटकारा चाहते हैं और वे इमरान खान को सबसे व्यवहार्य क्षमता के रूप में देखते हैं. शशि थरूर ने कहा कि इमरान सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है लेकिन उन्हें बहुमत साबित करना होगा. उन्हें निदर्लीय और छोटी पार्टियों पर निर्भर होना होगा, वह निश्चित तौर मुताहिद मजलिस ए अमल के साथ गठबंधन करेंगे.

शशि थरूर ने कहा कि ये पार्टी सेना के निर्देशों पर चलने वाली है जिसका मतलब है कि अगर सेना कुछ करना चाहती है तो सरकार उस पर आपत्ति करेगी तो सरकार गिरा दी जाएगी. उन्होंने कहा कि इन परिस्थितियों में, पीएम के रूप में उन्हें एक स्वीकार्य चेहरा मिलेगा, यह सुनिश्चित करते हुए कि वह हाथ से बाहर नहीं निकलेंगे और स्वतंत्र नहीं होंगे है.

इसलिए पाकिस्तानी सेना के लिए उचित परिणाम है. शशि थरूर ने कहा कि पाकिस्तानी सेना का भारत से हमेशा विशेषाधिकार रहा है. वे नवाज शरीफ, ज़रादरी या इमरान खान के किसी भी सरकार के लिए लाल रेखा तय करते हैं. अंत में कोई भी सेना की लाल रेखाओं को पार नहीं कर सकता है. तो मुझे नहीं लगता कि यह बहुत अधिक बदलाव होगा.