Home देश शिवराज सिंह ने कांग्रेस पर बोला ये हमला, राहुल ने किया ये...

शिवराज सिंह ने कांग्रेस पर बोला ये हमला, राहुल ने किया ये अशोभनीय काम

SHARE

जन आशीर्वाद यात्रा के अंतर्गत खरगोन पहुंचे सीएम शिवराज सिंह ने सर्किट हाउस में पत्रकार वार्ता के दौरान कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव और राहुल गांधी पर जमकर वार करते हुए इसे कोरी और सस्ती राजनीति बताया. पत्रकार वार्ता के दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि “कांग्रेस बिना उद्देश्य के सिर्फ सस्ती राजनीति कर रही है.

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने संसद में अमर्यादित व्यवहार किया है. आंखों को नचाना हमारी संस्कृति और संस्कारों का हिस्सा नहीं है और न ही कभी हो सकती है. यह हरकत गली का छोटा नेता करे तो उत्साह में कर दिया मगर किसी बड़ी पार्टी का सर्वोच्च नेता जब ऐसी हरकतें करता है तो यह बेहद अशोभनीय लगता है.”सीएम शिवराज ने राहुल गांधी के आंखें मटकाने को पप्पू वाली हरकत बताया. उन्होंने कहा कि “राहुल गांधी ने यह हरकत करके अपने को पप्पू कहना सही सिद्ध कर दिया है.”

सीएम शिवराज ने कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा कि ”एक राष्ट्रीय पार्टी जो गठबन्धन से ही सही बीजेपी को विकल्प देने की बात करती है, उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष की यह सोच है तो आप समझ लीजिये कांग्रेस देश को कहां ले जायेगी. कांग्रेस की यह दुर्गति देखकर तकलीफ और पीड़ा होती है.

वहीं मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ पर निशाना साधते हुए CM शिवराज ने कहा कि “मैं १३ साल से मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री हूं. साढ़े १४ साल में भाजपा ने बीमारू राज्य को विकासशील राज्य बनाया है.” वहीं प्रेस वार्ता के बाद सीएम शिवराज खरगोन के वरिष्ठ नागिरिकों से मिले और फिर जन आशीर्वाद रथ में सवार होकर मंडी सभा को संबोधित करने निकल गए. सीएम शिवराज की जन आशीर्वाद यात्रा में उनके साथ उनकी पत्नी साधना सिंह और भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रभात झा भी शामिल रहेसीएम ने कहा कि निमाड़ में ५ हजार करोड़ की सिंचाई परियोजनों का काम चल रहा हैं. अब किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है.

किसानों की लागत में ५० प्रतिशत जोड़कर समर्थन मूल्य तय किया जाएगा. कपास पर आधारित योजना बनाएंगे और सुविधाएं देंगे ताकि बच्चों को रोजगार मिले.भाजपा सरकार हर खेत पानी पहुंचाएगी. उन्होंने अमर शहीद राजेंद्र यादव को भी नमन किया. सीएम ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में अध्यापक की जगह शिक्षाकर्मी बनाए गए थे. खरगोन को नंबर वन बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. कांग्रेस ने गरीबी हटाओ के नारे लगाए लेकिन नहीं हटी, कांग्रेस मुझसे सीखे गरीबी कैसे हटाएं.