Home देश IT में पहले स्थान पर पहुंचा राजस्थान

IT में पहले स्थान पर पहुंचा राजस्थान

SHARE

राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे शुक्रवार को बीकानेर के दौरे पर रहीं. सीएम राजे  का बीकानेर पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया. वहीं इसके बाद सीएम राजे ने नागणेची मंदिर में दर्शन किए. पुजारियों ने सीएम राजे से विशेष पूजा कराई. जिसके बाद सीएम राजे डिजिफेस्ट में पहुंचीं.

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि पिछले दो वर्षों में राजस्थान सूचना तकनीक (आईटी)में प्रथम स्थान पर आ गया है. राजे ने शुक्रवार को यहां बीकानेर में चल रहे तीन दिवसीय राजस्थान डिजिफेस्ट समारोह में शिरकत करने के बाद सादुल मैदान पर आयोजित हेलमेट वितरण कार्यक्रम में बोल रही थी. उन्होंने कहा कि अब स्थिति यह है कि IT के सिरमौर रहे कर्नाटक और केरल के लोग राजस्थान से मशवरा लेने आते हैं.

उन्होंने कहा कि डिजिटल क्षेत्र में प्रतिभाओं को पूर्ण्तः प्रोत्साहन दिया जायेगा। इसके तहत तकरीबन १०० प्रतिभाशाली बच्चों को उच्च प्रशिक्षण के लिए सिलिकॉन वैली भेजा जाएगा. महिलाओं और बच्चों के लिये IT प्रशिक्षण के लिए लगभग १५० करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं. उन्होंने कहा कि उनके सत्ता में आने से पहले राजस्थान की गिनती बीमारू राज्यों में की जाती थी, लेकिन अब हम तकनीकी क्षेत्र में भी नंबर वन पर हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘सूचना एवं प्रौद्योगिकी के नवाचारों को लागू करने में हम देश का अग्रणी राज्य बन गए हैं. सूचना एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नया इतिहास लिखा जा रहा है और राजस्थान का नाम इसके पहले पन्ने पर आएगा. उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को दुनिया से जोड़ने के लिए प्रदेश के सभी दूरगामी क्षेत्रों को डिजिटली जोड़ा जा रहा है.उन्होंने कहा कि भामाशाह कार्ड, स्वास्थ्य बीमा योजना, गैस कनेक्शन, पालनहार, सामाजिक स्कॉलरशिप ,PM आवास, राजश्री जैसी योजनाओं से राज्य के लोगों को बहुत लाभ हुआ है, कौन कहता है कि काम नहीं हुआ.

उन्होंने इशारों में जनता से यह कहा कि अगर पुरानी आदतों पर चलते रहे तो हमें आराम हो जाएगा. बार बार सरकार बदलते रहे तो कोई भी काम नहीं करेगा और नुकसान जनता का ही होगा. इससे पहले राजे राजस्थान डिजिफेस्ट समारोह में तकनीकि क्षेत्र के युवाओं से रुबरु हुईं. सीएम के बीकानेर आगमन पर रास्ते में कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया.