Home देश PM मोदी का फिर से कमाल, कश्मीर में धारा 370 पर कोर्ट...

PM मोदी का फिर से कमाल, कश्मीर में धारा 370 पर कोर्ट ने दिया ये बड़ा फैसला

SHARE

कश्मीर में आये दिन देश विरोधी नारे बाजी और पत्थरबाजी चालू हैं. जिससे कश्मीर सरकार समेत कश्मीर के रहने और घुमने आये लोगों को बेहद परेशानी उठानी पड रही हैं.

जैसे ही सुप्रीम कोर्ट ने धारा ३७० पर फैसला सुनाया हैं तभी से अलगाववादियों में और देश विरोधी नारे लगाने वाले पत्त्थर बाजों में बडा बवाल खड़ा हो गया हैं. जब से भारत आजाद हो गया हैं तभी से भारत के पीछे कश्मीर की परेशानी शुरू हो गई हैं आये दिन सीमा पर होने वाली गोलीबारी और कई अन्य हिंसक कारणों के चलते कश्मीर समेत भारत परेशान हो उठा हैं. पाकिस्तान भारी मात्रा में कश्मीर में आतंक फ़ैलाने की कोशिश में जुटा हैं. यहाँ के लोगों को एकदूसरे के खिलाप भड़काने की कोशिश करके पत्थरबाजी करवाने की कोशिश करता हैं. भारत ने कश्मीर के मुद्दे को पाकिस्तान को चुप करने की हर प्रकार की कोशिश की हुई हैं. इसमे इंडिया ने टैक्स के अरबों रुपये खर्च की हैं लेकिन पाकिस्तान को अब तक समज नहीं आई.

अब इन दोनों देशों के बिच का कश्मीर को लेकर का झगड़ा खत्म हो सकता हैं. अब मोदी सरकार ने धारा ३७० पर बड़ा फैसला लेते हुए कश्मीर पर से धारा ३७० हटवाने की कोशिश जरी की हैं. मोदी सरकार अब कश्मीर के मुद्दे पर जबरदस्त एक्शन में दिख रही हैं, उनके बदले हुए अंदाज से लग रहा हैं की अब कश्मीर का मुद्दा ख़त्म ही होने वाला हैं. बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने कश्मीर के मुद्दे को लेकर धारा नंबर ३७० पर बड़ा बयान दिया हैं. अमित शाह का कहना हैं की बीजेपी अन्य दलों को साथ लेकर इस मुद्दे पर जरुर जल्द ही चर्चा कर सुलजायेगी. साथ ही अध्यक्ष का कहना हैं की सिर्फ ३७० धारा बंद करने से इस में जादा बदलाव नहीं नजर आयेंगे जब तक पाकिस्तान से आतंकवाद के खिलाप भड़काना बंद ना हो.

बीजेपी ने पत्थारबाजों के साथ ही अलगाववादि नेताओं पर कड़ी कारवाही शुरू कर दी हैं. अलगाववादियों पर कड़ी कारवाही के लिए दिल्ली में बुलाकर पुछताछ जारी कर दी हैं. इस पूछताछ के बाद बड़ा बयान सामने आया हैं की अलगाववादियों को कश्मीर में आतंकवद फ़ैलाने के लिए कश्मीर से भारी मात्रा में पैसे दिए जा रहे हैं. और सबसे बड़ा निकष तो ये सामने आया हैं की इन सब कारनामों के लिए कोंग्रेस जिम्मेदार हैं. बीजेपी ने सेना को आदेश देकर कश्मीर आतंक पैदा करने वाला प्रमुख हिजबुल मुजाहिद्दीन का सफाया करने के आदेश दिए हैं. आदेश मिलते ही कश्मीर की सेना ने बुरहान वाणी के सभी गैंग के लोगों को मार गिराया हैं. इसके साथ ही हिजबुल के लीडर को भी ढेर कर दिया हैं. अमित शाह ने कश्मीरी पंडितों के मुद्दे पर भी बात की.

कश्मीरी पंडितों के मुद्दे को लेकर प्रक्रिया शुरू कर दी हैं जल्द ही कश्मीरी पंडित अपने घर कश्मीर में होंगे. उन्होंने बताया की कश्मीरी पंडितों को घर वापसी दिलाकर ही बीजेपी सरकार इस मुद्दे से पिछे हटेंगी, कोंग्रेस के ऊपर पलटवार करते हुए अमित शाह बोले की ये समस्या कश्मीर के घाटी जिल्हों की हैं. इस जिल्हों में हो रही समस्या की जड़ धारा ३७० बताते हुए कोंग्रेस पर निशाना साधा. कश्मीरी घाटी के अलगाववादी हर रोज पत्थरबाजी करते हैं. और हडकंप मचा देते हैं. इन लोगों को लगता हैं की ऐसा करने से भारत खुदबखुद झुक जायेगा लेकिन बीजेपी सरकार के चलते ऐसा नहीं होने वाला. सरकार ने ही नहीं बल्कि सेना और सेना के प्रमुख जनरल रावत ने भी सख्त रूप अपनाते हुए कड़े बोल अलगाववादियों को सुनाये हैं.

इस मुद्दे को उठाते हुए जनरल रावत ने कहा हैं की किसी देश के लोगों के मन से अगर सेना का डर निकले तो देश की हानी तै हैं. अगर लोगों के उपर सेना का भय न हो तो देश का विनाश तै हैं. साथ ही कहा की हर लोगों को विरोधियों से डरना चाहिए साथ ही सेना से भी. भारत की सेना मैत्री पूर्ण सेना हैं लेकिन जरुरत पड़ने पर लोगों के अंदर सेना को लेकर भय होना भी उतनाही जरुरी हैं. कश्मीर में जो युद्ध जारी हैं ओ अपने आप में ही एक बड़ा गंदा तरीका हैं. इसमे जित हासिल करना सेना के लिए मुश्किल जा रहा हैं. इसे जितने के लिए सेना को कोई अलग रास्ता अपनाना होगा. साथ ही जनरल रावत ने इस युद्ध का जिक्र करते हुए कहा की सेना के लोग मुझे आकर कहते हैं की अलगाववादी दगड फैकते हैं, पेट्रोल के बम आग लगाकर फैकते हैं ऐसे में हम क्या करे? और साथ ही ये भी बताया की मेरा उन्हें आप कुछ न करे बस देखते रहे और शहीद हो जाइये ऐसा कहना ठीक होगा? जनरल रावत ने कहा की मुझे आपने सैनिकों का मनोबल बढ़ाना होता हैं. सेना इस युद्ध के लिए मन बना चुकी हैं अब इससे पीछे नहीं हटेंगी.