Home देश PM मोदी ने इस्राइल से की ये बड़ी डील, चीन और पाक...

PM मोदी ने इस्राइल से की ये बड़ी डील, चीन और पाक में मचा कोहराम

SHARE

पाकिस्तान के खिलाफ़ भारत हथियार की क्षमता बढाने के लिए अब इजराइल एंटी टैंक स्पाइक मिसाइल ख़रीदने जा रहा है.भारत और इजराइल के बिच इस रक्षा सौदे के लिए डील तय हो चुकी है. लेकिन अब तक कोई अधिकारिक बयान जारी नहीं हुआ है.ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत सरकार (जीओआई) जल्द ही इजरायल से स्पाइक एंटी-टैंक निर्देशित मिसाइलों को खरीदने का आदेश दे सकती है.

भारत सरकार इजरायल से ‘स्पाइक’ मिसाइल खरीदने की तैयारी कर रही है. यह मिसाइल पाकिस्तान के खिलाफ सेना की ऐंटी-टैंक कैपेबिलिटी बढ़ाने में मदद करेगी. इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने इस बात की जानकारी दी है.ब्लूमबर्ग में छपी की रिपोर्ट की मानें तो डिफेंस रिसर्च ऐंड डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन आने वाले तीन साल में स्वदेशी ऐंटी-टैंक मिसाइल बनाने की तैयारी कर रहा है, लेकिन सेना तब तक के अंतर को खत्म करने के लिए स्पाइक मिसाइल खरीदना चाहती है. इस खरीदारी का प्रस्ताव अपनी काफी अडवांस्ड स्टेज पर है. सूत्र ने बताया कि इस प्रस्ताव के लिए सरकार की हां का इंतजार है.सूत्र ने बताया कि ऐंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल का ऑर्डर इजरायल की राफेल अडवांस्ड डिफेंस सिस्टम लिमिटेड ने तैयार किया है. आर्मी की जरूरतों को देखते हुए इस मिसाइल की खरीद का फैसला इसी साल लिया जा सकता है.

राफेल के इजरायल स्थित दफ्तर के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की है कि इस संभावित डील पर अभी चर्चा हो रही है, लेकिन जब तक डील साइन नहीं हो जाती है, तब तक वह इस पर कुछ भी कहना नहीं चाहते हैं. लंबी चर्चा और विचार के बाद भारत ने जनवरी २०१८ में करीब ३,३५८ करोड़ रुपये की इस डील को कैंसल करने का फैसला लिया था. भारत ने डीआरडीओ के उस वादे के बाद उस डील को कैंसल करने का फैसला लिया था, जिसमें कहा गया था कि वह जल्द आर्मी की जरूरों के हिसाब से ८००० ऐंटी-टैंक मिसाइल देगा. डीआरडीओ ने साल २०१८ के आखिर तक भारत में बनी ऐंटी-टैंक मिसाइल देने का वादा किया था. जैसे ही इसका ट्रायल सफल होगा,२०२१ तक इसका बड़ी संख्या में प्रॉडक्शन शुरू हो जाएगा.